स्विस बैंक में काला धन रखने वालों की जानकारी सरकार के पास, कार्रवाई के डर से कई खाते बंद

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : September 09, 2019 08:00:01 AM

(Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

स्विस बैंक में खाता रखने वाले भारतीयों की सूची और उनसे जुड़ी जानकारी भारत सरकार के पास आनी शुरू हो गई है. सरकार इन जानकारियों की जांच कर रही है ताकि काला धन रखने वालों के खिलाफ सख्स कार्रवाई करने के लिए सबूत मिल सकें. ये जानाकरी स्विटजरलैंड सरकार ने सूचना साझा करने की स्वचालित व्यवस्था के तहत भारत सरकार को दी है. स्विटजरलैंड सरकार द्वारा भेजी जानकारी में ये भी बताया गया है कि कई भारतीयों ने कार्रवाई के डर से अकाउंट बंद कर दिए हैं.

खबरों की मानें तो स्विटजरलैंड सरकार ने जो जानकारी दी है उसके मुताबिक स्विस बैंको में खाता रखने वाले भारतीयों में ज्यादातर बिजनेसमैन औ एनआरआई हैं. भारत को मिली जानकारी को तीन केटैगरी में बांटा गया है जिसमें खाताधारक की पहचान, खाता संख्या और वित्तीय लेन-देन से संबंधित जानकारी दी गई है. वहीं जानकारी में ये भी बताया गया कई लोगों ने वैश्विक स्तर पर कार्रवाई के डर से अपने खातों को बंद कर दिया है. इसके अलावा कई खातों से बड़े पैमानों पर पैसे भी निकाले गए हैं.

यह भी पढ़ें: हरियाणा के रोहतक में बोले पीएम नरेंद्र मोदी, 7 सितंबर की रात 100 सेकंड में जुड़ गया पूरा हिन्दुस्तान

स्विटजरलैंड सरकार ने जो जानकारी दी है उसमें उन खातों की जानकारी भी है जो 2018 में एक दिन सक्रिय रहे हों. माना जा रहा है कि ये जानकारियां खाता धारकों के खिलाफ सख्त केस तैयार करने के लिए काफी हैं. इसके अलावा भारतीय सरकार को उन खातों के बारे में भी जानकारी दी गई है जो 2018 से पहले बंद हो गए थे. खबरों की मानें तो भारत सरकार ऐसे 100 खातों की जानकारी मिली है.

यह भी पढ़ें: पैसों के लिए किसी भी हद तक गिरने को तैयार पाकिस्तान, निवेशकों के आगे कराया बैली डांस; देखें Video

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उन खातों पर भी खास ध्यान दिया जा रहा है जिनकी कड़ी कहीं न कहीं से राजनीतिक रूप से जुड़ी हुई हैं. बता दें, पिछले महीने स्विस अधिकारियों का एक प्रतिनिधि मंडल भारत के दौरे पर था. इस दौरान टैक्स और टैक्स चोरी से जुड़े मुद्दों पर बात हुई थी.

बता दें कि पिछले ही महीने स्विस अधिकारियों का एक प्रतिनिधिमंडल भारत के दौरे पर था. इस दौरान टैक्स और टैक्स चोरी से जुड़े मुद्दों पर बात हुई थी.

First Published: Sep 09, 2019 07:55:54 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो