BREAKING NEWS
  • बिहार के गौतम बने 'KBC 11' के तीसरे करोड़पति, कहा-पत्नी की वजह से मिला मुकाम- Read More »
  • छोटा राजन का भाई उतरा महाराष्ट्र के चुनावी रण में, इस पार्टी ने दिया टिकट - Read More »
  • IND vs SA, Live Cricket Score, 1st Test Day 1: भारत ने टॉस जीता पहले बल्‍लेबाजी- Read More »

आलोक वर्मा के बाद CBI से राकेश अस्थाना की भी हुई छुट्टी, 3 और अधिकारियों के तबादले

News State Bureau  |   Updated On : January 18, 2019 12:22:04 AM
राकेश अस्थाना (फाइल फोटो)

राकेश अस्थाना (फाइल फोटो) (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

केंद्र सरकार की नियुक्ति समिति ने गुरुवार को सीबीआई के विशेष निदेशक राकेश अस्थाना के कार्यकाल को तत्काल प्रभाव से खत्म कर दिया है. अस्थाना के साथ सीबीआई के अन्य अधिकारियों संयुक्त निदेशक अरुण कुमार शर्मा, उपमहानिरीक्षक मनीष कुमार सिन्हा और पुलिस अधीक्षक जंयत जे नायकनावरे के कार्यकाल में कटौती का आदेश दिया है. केंद्र सरकार की कार्मिक व प्रशिक्षण विभाग की नोटिस में चारों अधिकारियों के नाम जारी किए गए. सूत्रों के अनुसार, राकेश अस्थाना को सीबीआई से हटाकर एविएशन सुरक्षा में भेजा गया है. इससे पहले 10 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में बनी 3 सदस्यीय चयन समिति ने आलोक वर्मा को भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर पद से हटाया था.

बता दें कि राकेश अस्थाना के खिलाफ सीबीआई ने (आलोक वर्मा के निदेशक रहते हुए) भ्रष्टाचार मामले में एफआईआर दर्ज किया था. एफआईआर को खत्म करने के लिए अस्थाना ने दिल्ली हाई कोर्ट का रुख किया था हालांकि कोर्ट ने उनकी याचिका को खारिज कर दी थी.

अपदस्थ सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा के वकील ने अस्थाना के खिलाफ एजेंसी की कार्रवाई को जायज ठहराया था और कहा था कि प्राथमिकी मौजूदा कानूनों के अनुरूप और उचित प्रक्रिया के तहत दर्ज की गई थी.

सीबीआई ने अस्थाना, निलंबित पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) देवेंद्र कुमार और दो अन्य के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज की थी, जिसमें आरोप था कि उन्होंने दिसंबर 2017 से अक्टूबर 2018 के बीच कम से कम पांच बार रिश्वत ली थी.

और पढ़ें : आलोक वर्मा को हटाए जाने के बाद CBI के नए निदेशक के लिए चयन समिति की बैठक 24 जनवरी को

1984 बैच के गुजरात कैडर के आईपीएस अधिकारी राकेश अस्थाना पर आरोप है कि उन्होंने एक कारोबारी से 2 करोड़ रुपये लिए थे. इस कारोबारी के खिलाफ कुरैशी मामले में जांच चल रही थी. मामले की जांच अस्थाना के नेतृत्व वाला एक विशेष जांच दल (एसआईटी) कर रहा था.

First Published: Jan 17, 2019 08:02:50 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो