BREAKING NEWS
  • अपनी ही सरकार की अफसरशाही से परेशान कांग्रेस विधायक, मुख्यमंत्री से मिलकर लगाई गुहार- Read More »
  • Rupee Open Today 16th Oct 2019: डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपया कमजोर, 5 पैसे गिरकर खुला भाव- Read More »
  • PMC Bank : महिला खाताधारक ने की आत्‍महत्‍या, पुलिस ने बताया इस वजह से की खुदकुशी- Read More »

5 बच्चों की हत्या के जुर्म में पिता को मिली मौत की सजा, पत्नी ने दिखाई 'दरियादिली' और...

PTI  |   Updated On : June 14, 2019 06:10:25 PM
मरने वाले बच्चों की तस्वीर (फोटो:AP)

मरने वाले बच्चों की तस्वीर (फोटो:AP) (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  पांच बच्चों की हत्यारे पिता को मिली मौत की सजा
  •  पत्नी ने कहा- बच्चे पिता से करते थे प्यार, सजा बदल दी जाए
  •  9 दिन तक बच्चों के शव को कार में लेकर घूमता रहा हत्यारा

नई दिल्ली:  

अमेरिका में एक महिला अपने पांच बच्चों को खो देने के बाद भी दोषी पति के लिए कोर्ट के सामने मौत की सजा को बदलने की मांग की. गुरुवार को पांच बच्चों की हत्या के जुर्म में दोषी पिता को मौत की सजा सुनाई गई. जिसपर उसकी पूर्व पत्नी ने इस सजा को बदलने की मांग की.

पत्नी ने अदालत में मौत की सजा बदलने की मांग की
दोषी की पूर्व पत्नी ने जब दक्षिण कैरोलीना की अदालत में ज्यूरी से अपने पूर्व पति को जिंदा रहने देने की अपील की तो पूरी अदालत स्तब्ध रह गई. महिला ने कहा कि बच्चे अपने पिता से बहुत प्यार करते थे. इसलिए मौत की सजा को बदल दिया जाए.

सीजोफ्रेनिक की बीमारी से पीड़ित आरोपी
37 साल के आरोपी टिमोथी जोन्स के मामले की सुनवाई के दौरान दलील दी थी कि उनका मुवक्किल ‘सीजोफ्रेनिक’ है इसलिए वह इस हालत में नहीं है कि उसके खिलाफ मामला चलाया जा सके.

इसे भी पढ़ें: आतंकी हमले की आशंका के बाद राम नगरी अयोध्या हाईअलर्ट पर, सुरक्षा के कड़े इंतजाम

गला दबाकर बच्चों को मौत के घाट उतारा
बता दें कि जोन्स ने साल 2014 में अपने 5 बच्चों की हत्या कर दी थी. बच्चों की उम्र एक से 8 साल की बीच थी. जोन्स को पिछले साल यानी 2018 में दोषी ठहराया गया था और गुरुवार यानी 14 जून 2019 को सजा सुनाई गई.

मेरे बच्चे पिता से करते थे प्यार लेकिन उसने दया नहीं दिखाई
खबरों के मुताबिक उसकी पूर्व पत्नी अंबर केजर ने कहा, ‘उसने मेरे बच्चों पर किसी तरह की कोई दया नहीं दिखाई लेकिन बच्चे उसे प्यार करते थे और अगर मैं अपनी ओर से नहीं, बच्चों की तरफ से बोलूं तो मुझे बस यही कहना है.’

केजर ने कहा कि उसने बच्चों का संरक्षण जोन्स को इसलिए दिया था क्योंकि एक कंप्यूटर इंजीनियर के तौर पर वह उससे ज्यादा कमाता था. ज्यूरी को अपना फैसला सुनाने में दो घंटे से भी कम वक्त लगा.

9 दिन तक बच्चों के शव को कार में लेकर घूमता रहा हत्यारा
गौरतलब है कि जोन्स ने अदालत में कहा था कि उसे शक था कि उसका छह साल का बच्चा अपनी मां के साथ मिल कर उसके खिलाफ साजिश रच रहा है इसलिए उसने बच्चे से तब तक कसरत कराई जब तक उसकी मौत नहीं हो गई. इसके बाद 4 बच्चों की गला घोट कर हत्या कर दी गई. पांच का शव उसने अल्बामा में कार के अंदर रखकर 9 दिन तक घूमता रहा. जिसके बाद जोन्स की कार से क्षत-विक्षत शवों की दुर्गंध आने से उसे एक यातायात चौकी पर गिरफ्तार किया और पुलिस को उसे सौंप दिया. जिसके बाद पूरे मामले का सच सामने आया.

First Published: Jun 14, 2019 06:10:16 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो