शरजील इमाम के समर्थन में उतरे JNU- जामिया के छात्र, सड़कों पर की नारेबाजी

News State Bureau  |   Updated On : January 28, 2020 10:18:25 AM
शरजील इमाम के समर्थन में उतरे JNU- जामिया के छात्र, सड़कों पर की नारेबाजी

शरजील इमाम के समर्थन में उतरे छात्र (Photo Credit : फाइल फोटो )

नई दिल्ली:  

भड़काऊ भाषण देने के आरोप में जेएनयू छात्र शरजील इमाम के खिलाफ 5 राज्यों में केस दर्ज किए गए हैं. वहीं उसकी तलाश में दिल्ली पुलिस जगह-जगह दिल्ली पुलिस रेड कर रही है लेकिन शरजील इमाम अभी भी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं. वहीं दूसरी तरफ बताया जा रहा है कि JNU में शरजील इमाम के पक्षवमें नारेबाजी की जा रही है. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो केवल JNU ही नहीं बल्कि जामिया के छात्र भी शरजील के समर्थन में सामेन आ रहे हैं.

बताय जा रहा है कि शरजील को समर्थन देते हुए JNU के साथ-साथ जामिया के छात्र सड़कों पर उतर आए और सरकार को घेरने की कोशिश की. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें सोमवार सुबह 9 बजे JNU में एक मार्च शुरू हुआ. यह मार्च गंगा ढाबा से शुरू होकर साबरमती ढाबे और फिर चंद्रभागा तक गया. मार्च के दौरान प्रदर्शनकारियों ने नारेबाजी की और कहा, 'शरजील इमाम जिंदाबाद. शरजील तुम संघर्ष करो हम तुम्हारे साथ हैं.'. बताया ये बी जा रहा है कि इस मार्च के दौरान CAA, NRC और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की गई.

यह भी पढ़ें:  राजस्थान : देर रात हॉस्टल से भागकर चौराहे पर धरना देने बैठी छात्राएं

बता दें, असम और नॉर्थ-ईस्ट को हिंदुस्तान से अलग करने की बात कहने वाले वायरल विडियो मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच सहित पांच राज्यों की पुलिस ने जेएनयू (JNU) छात्र शरजील इमाम के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है. शरजील इमाम के खिलाफ दिल्ली के अलावा यूपी, असम, मणिपुर और अरुणाचल प्रदेश में एफआईआर दर्ज की की गई हैं. पुलिस ने शरजील के खिलाफ देशद्रोह की धाराओं में मामला दर्ज किया है. वहीं बिहार पुलिस भी शरजील की तलाश कर रही है.

पैतृक आवास पहुंची पुलिस

जहानाबाद के पुलिस सूत्रों ने सोमवार को बताया कि केंद्रीय जांच एजेंसी की टीम ने शरजील की गिरफ्तारी के लिए जहानाबाद के काको स्थित पैतृक आवास पर रविवार को छापेमारी की. इस दौरान घर के सदस्यों को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई, हालांकि शरजील वहां नहीं मिला. इस बीच शरजील की मां अफशां परवीन ने आरोप लगाया है कि उसके बेटे के बयान को तोड़मरोड़ कर पेश किया गया है. उन्होंने दावा किया कि उनका बेटा जैसा दिखाया जा रहा है वैसा नहीं है. उन्होंने कहा, 'मेरे बेटे को फंसाया जा रहा है. वह केवल एनआरसी का विरोध जता रहा था.'

यह भी पढ़ें: देशविरोधी भाषण देने वाले शरजील इमाम की तलाश में पुलिस, भाई को लिया हिरासत में

क्या है पूरा मामला?

दरअसल शनिवार को सोशल मीडिया पर शरजील इमाम का एक वीडियो वायरल हुआ था. इस वीडियो में शरजील लोगों को भड़काने के साथ ही देश विरोधी बातें भी करता है. इस विडियो को लेकर उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ और असम के गुवाहाटी में उसके खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ है, जिसमें देशद्रोह की धारा भी शामिल है. यूपी पुलिस ने दो टीमों को शरजील की गिरफ्तारी के लिए लगाया है.

शरजील ने कहा था 'मुर्गी की गर्दन मुस्लिमों के हाथ में है'

शरजील के विवादित वीडियो में कई भड़काऊ बातें कही गई हैं. शरजील ने लोगों को भड़काते हुए कहा कि 'आप जानते हो असम में मुसलमानों के साथ क्या हो रहा है? एनआरसी वहां लागू हो चुका है और लोगों को डिटेंशन कैंपों में भेजा जा रहा है. शरजील ने कहा कि हमें असम के रास्ते बंद करने होंगे जिससे सेना और अन्य सप्लाई वहां न पहुंच सके. मुर्गी की गर्दन मुसलमानों के हाथ में है.'

First Published: Jan 28, 2020 10:16:49 AM

न्यूज़ फीचर

वीडियो