BREAKING NEWS
  • Mini Surgical Strike: वीके सिंह का पाकिस्तान को जवाब, बोले- कई बार पूंछ सीधी...- Read More »

मोदी-चिनफिंग की मुलाकात पर पाकिस्तान की निगाहें, कश्मीर मुद्दे पर पाक को उम्मीदें

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : October 11, 2019 09:52:16 PM
मोदी के साथ चिनफिंग

मोदी के साथ चिनफिंग (Photo Credit : ट्वीटर )

ख़ास बातें

  •  मोदी-चिनफिंग की वार्ता पर पाक की निगाहें
  •  पाकिस्तान को कश्मीर मुद्दे पर बातचीत की उम्मीद
  •  चिनफिंग के दौरे से पहले इमरान ने किया था चीन का दौरा

नई दिल्‍ली:  

चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग (Chinese President XI Jinping) मौजूदा समय भारत के 2 दिवसीय दौरे पर हैं. इसके पहले पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान (Pakistan PM Imran Khan) तीन दिनों के लिए चीन की यात्रा पर गए थे. इमरान के दौरे के तुरंत बाद ही चीनी राष्ट्रपति भारतीय दौरे पर आए हैं. शुक्रवार को भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के साथ अनौपचारिक शिखर सम्मेलन में उनका स्वागत कर रहे हैं. पीएम नरेंद्र मोदी मोदी और शी चिनफिंग की इस मुलाकात पर पाकिस्तान निगाहें भी टिकी हुईँ हैं.

पाकिस्तान मोदी और चिनफिंग की इस मुलाकात पर पाकिस्तान अपनी निगाहें बनाए हुए है. यहां पाकिस्तान को ये उम्मीद है कि चीन भारत सरकार के समक्ष 5 अगस्त को कश्मीर पर लिए गए फैसले के मुद्दे को उठाएगा. जैसा कि पूरी दुनिया जानती है कश्मीर के मु्द्दे पर चीन खुलकर पाकिस्तान के साथ रहा है और भारत के खिलाफ रहा है. यहां त​क कि यूनाइटेड नेशंस सिक्योरिटी काउंसिल में कश्मीर मुद्दे को उठाने की पाकिस्तान की कोशिशों में भी चीन ने उसका साथ दिया.

यह भी पढ़ें- राजस्थान: गहलोत सरकार के वरिष्ठ मंत्री का Video Viral, पार्टी में गुटबाजी सामने आई

कश्मीर से ऑर्टिकल 370 को निष्प्रभावी बनाने के मामले में चीन भारत सरकार के फैसले का विरोध करता रहा है. आपको बता दें 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से ऑर्टिकल 370 को भारत सरकार ने निष्प्रभावी कर दिया था और जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को दो अलग हिस्सों में बांट दिया था. जम्मू-कश्मीर एक अलग राज्य और लद्दाख को केंद्र शासित राज्य बना दिया था. चीन ने भारत और पाकिस्तान से अपील की है वे कश्मीर को लेकर ऐसे फैसले से बचें.

यह भी पढ़ें-पीएम नरेंद्र मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के बीच सकारात्मक माहौल में हुई मुलाकात

कश्मीर में मानवाधिकार के मुद्दे उठाने में भी चीन काफी मुखर रहा है वो आतंकवाद और तमाम अन्य मुद्दों पर खुलकर पाकिस्तान के साथ रहा है. चीन ने भारत की उन कोशिशों का ​भी विरोध किया जब भारत ने पाकिस्तान को आतंकवाद का ठिकाना घोषित करवाने की कोशिश की. इतना ही नहीं पाकिस्तान के आतंकी मसूद अजहर को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित करवाने में चीन ने कई बार बीटो पावर का इस्तेमाल कर उसे बचाया.

यह भी पढ़ें-मोदी सरकार की अर्थव्यवस्था को झटका झटका, औद्योगिक उत्पादन दर में आई गिरावट

चीनी राष्ट्रपति के दौरे से पहले पाक पीएम इमरान ने चीन का दौरा किया जहां चीनी प्रधानमंत्री ली केकियांग ने कहा, 'चीन पाकिस्तान की स्वतंत्र संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता की सुरक्षा का समर्थन करता है.' पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भी बयान दिया है कि चीन के राष्ट्रपति जिनपिंग ने अपनी भारत यात्रा के बारे में पाक पीएम इमरान खान को विश्वास में लिया है.

यह भी पढ़ें- चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के दौरे से पहले PAK ने तोड़ा सीजफायर उल्लंघन, एक जवान शहीद

First Published: Oct 11, 2019 09:52:16 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो