जम्मू कश्मीर पर मोदी सरकार के फैसले का JDU करेगी विरोध

News State Bureau  |   Updated On : August 05, 2019 01:24:05 PM
नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

ख़ास बातें

  •  जम्मू कश्मीर के मुद्दे पर जेडीयू केंद्र सरकार के साथ नहीं. 
  •  हालांकि जेडीयू का विरोध सांकेतिक ही होगा.
  •  अब तक एनडीए सरकार के दो फैसलों का विरोध कर चुकी है जेडीयू.

नई दिल्ली:  

जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) पर मोदी सरकार के फैसले (Decision of Modi Goverment) का विरोध एनडीए की सहयोगी पार्टी जेडीयू या जनता दल यूनाइटेड (Janta Dal United) करेगी. यह दूसरी बार है कि जब एनडीए की किसी सहयोगी पार्टी ने केंद्र सरकार के किसी फैसले का विरोध किया हो. इसके पहले जेडीयू ने तीन तलाक के मुद्दे पर केंद्र की एनडीए सरकार का विरोध किया था. 

हालांकि जेडीयू का ये विरोध सांकेतिक ही होगा. हालांकि जेडीयू की तरफ से ये साफ किया गया है कि आखिरी फैसला पार्टी को ही लेना होगा. जो भी अंतिम फैसला केंद्र सरकार लेगी, पार्टी सरकार के साथ खड़ी रहेगी. 

यह भी पढ़ें: Article 370 और 35A हटाने पर महबूबा मुफ्ती दिया ये बड़ा बयान

जम्‍मू-कश्‍मीर को लेकर फैसले पर जनता दल यूनाइटेड नेता श्याम रजक का बयान- आज संविधान की हत्या की गई है. आज देश के लिए कालादिन है. हम धारा 370 हटाने का विरोध करते रहे हैं और करते रहेंगे. इसके विरोध में हम किसी भी हद तक जा सकते हैं.

जनता दल की तरफ से पहले ही ये बात कही जा रही थी कि अगर अनु्च्छेद 35A को हटाने का फैसला लेती है तो वो केंद्र सरकार के इस फैसले का विरोध करेगी. 

यह भी पढ़ें: भारत में Article 370 और 35A हटते ही बौखलाया कंगाल पाकिस्तान

हालांकि कुछ ऐसी पार्टियां हैं कि जो इस फैसले में मोदी गवर्नमेंट का साथ भी दिया है. मायावती की पार्टी बीएसपी (बहुजन समाज पार्टी), आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी की पार्टी वाईएसआर कांग्रेस, उड़ीसा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की पार्टी बिजू जनता दल, बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस, तमिलनाडु की पार्टी AIADMK ने भी मोदी सरकार के इस ऐतिहासिक फैसले का स्वागत किया है.

First Published: Aug 05, 2019 12:54:02 PM

RELATED TAG:

Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो