जामिया उर्दू के रजिस्ट्रार और ओएसडी पर जबरन धर्म परिवर्तन का आरोप, जांच जारी

News State Bureau  |   Updated On : December 30, 2019 02:55:00 PM
जामिया उर्दू के रजिस्ट्रार और ओएसडी पर जबरन धर्म परिवर्तन का आरोप, जांच जारी

जामिया उर्दू (Photo Credit : (सांकेतिक चित्र) )

नई दिल्ली:  

जामिया उर्दू मेडिकल कॉलेज से जबरन धर्म परिवर्तन का मामला सामने आया है. यहां के रजिस्ट्रार और ओएसडी पर जबरदस्ती धर्म परिवर्तन करवाने का आरोप लगा है. इस मामले में डीआईजी से शिकायत के बाद अलग-अलग धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है. बता दें कि इस मामले में  क्वार्सी थाना क्षेत्र में रहने वाले कमल सिंह पुत्र स्व. दौलत सिंह ने डीआईजी के नाम लिखित शिकायत दी.

इसमें कमल सिंह ने बताया, 'मैं करीब 10 साल से जामिया उर्दू मेडिकल रोड में गार्डनर सुपरवाइजर के पद पर कार्यरत हूं. खाते में हर माह पीएफ काटकर वेतन आता रहता था, लेकिन सितंबर 2019 में ड्यूटी जाने पर रजिस्ट्रार शमुनरजा नकबी और ओएसडी फरहत अली खां ने मुझपर धर्म परिवर्तन के लिए दबाब बनाया. जब मैंने इसका विरोध किया तो दोनों ने उनकी हाजिरी और वेतन पर रोक लगा दी. इसके बावजूद वह लगातार ड्यूटी पर जाते रहे, लेकिन उनकी हाजिरी नहीं लगती थी और न ही वेतन मिला.'

ये भी पढ़ें: पाकिस्‍तान में महक केसवानी हो गई महक फातिमा, धर्मांतरण पर मचा बवाल

आरोप है कि 24 दिसम्बर की सुबह कमल सिंह और उनकी पत्नी पर फिर दोनों ने फिर से धर्म परिवर्तन के लिए दबाव बनाया था. नौकरी से हटाने और पूरे परिवार को जान से मरवाने की धमकी तक दी गई. इसके बाद कमल सिंह ने डीआईजी से शिकायत दर्ज करा कर इस पूरे मामले की जांच की मांग की है.

एसएसपी आकाश कुलहरि के आदेश के बाद इंस्पेक्टर ने तत्काल प्रभाव से रजिस्ट्रार और ओएसडी के खिलाफ धारा 153a, 406, 506 में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है.

First Published: Dec 30, 2019 02:44:17 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो