आतंकवाद के खिलाफ भारत की लड़ाई ने एक शक्तिशाली देश के रूप में स्थापित किया: राजनाथ सिंह

Bhasha  |   Updated On : December 08, 2019 07:34:51 PM
राजनाथ सिंह

राजनाथ सिंह (Photo Credit : न्यूज स्टेट )

झरिया:  

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को कहा कि भारत ने कभी भी किसी देश को छेड़ा नहीं है लेकिन अगर किसी ने उसे छेड़ा तो वह किसी को नहीं छोड़ेगा. सिंह ने यहां पर एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा आतंकवाद को रोकने के लिए उठाए गए कदम से भारत की प्रतिष्ठा दुनिया के एक शक्तिशाली देश के रूप में स्थापित हुई है. उन्होंने कहा, ‘‘ हमारा इरादा साफ है. हमारी नीति स्पष्ट है... हम दुनिया के किसी देश को छेड़ेंगे नहीं, लेकिन जो हमको छेड़ेगा, हम छोड़ेंगे नहीं.’’

पाकिस्तान के साथ मित्रतापूर्ण संबंध स्थापित करने के लिए भाजपा सरकार की ओर से उठाए गए कदमों को याद करते हुए सिंह ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी दोस्ती का हाथ बढ़ाते हुए पड़ोसी देश गए थे लेकिन उन्हें बदले में करगिल घुसपैठ मिली. सिंह ने कहा, ‘‘अटल जी कहा करते थे, जीवन में दोस्त बदले जा सकते हैं लेकिन पड़ोसी नहीं. वह पड़ोसी देश से रिश्ते स्थापित करने के लिए पाकिस्तान गए बदले में करगिल घुसपैठ हुई. हालांकि, हमारे जवानों ने माकूल जवाब दिया और उन्हें तबाह कर दिया.’’ रक्षामंत्री ने कहा कि पाकिस्तान पारंपरिक युद्ध नहीं लड़ सकता इसलिए वह भारतीय बलों पर हमले के लिए आतंकवादियों को भेजता है.

सिंह ने कहा, ‘‘नरेंद्र मोदी सरकार ने पाकिस्तान में घुसकर आतंकवादी शिविरों को तबाह करने का फैसला किया. भारत अब कमजोर देश नहीं है. मैं पहले और हाल में भी कई देशों के दौरे पर गया. बाहर हमारे देश के बारे में नजरिया बदल गया है. आतंकवाद के खिलाफ हमारी लड़ाई ने भारत की छवि दुनिया में एक शक्तिशाली देश के रूप में स्थापित की है.’’ रक्षामंत्री ने रेखांकित किया कि कांग्रेस के शासन में भारतीय राजनीतिक व्यवस्था के प्रति भरोसे की कमी थी. उन्होंने कहा कि भाजपा ने इसे चुनौती की तरह लिया और लोगों से किए वादों को पूरा किया. नागरिकता (संशोधन) विधेयक को वापस लेने की मांग करने वाली विपक्षी पार्टियों पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा धर्म और जाति के आधार पर लोगों में भेदभाव नहीं करती.

हम इंसाफ और इंसानियत पर भरोसा करते हैं. बता दें इस विधेयक में पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से आने वाले गैर मुस्लिम शरणार्थियों को नागरिकता देने का प्रावधान है. उल्लेखनीय है कि झारखंड विधानसभा के लिए पांच चरणों में होने वाले चुनाव के चौथे चरण में 15 सीटों पर 16 दिसंबर को मतदान होगा और इनमें झरिया सीट भी शामिल है. पहले और दूसरे चरण का मतदान क्रमश: 30 नवंबर और सात दिसंबर को संपन्न हुआ था. तीसरे चरण का मतदान 12 दिसंबर को होगा. भाजपा ने झरिया से मौजूदा विधायक संजीव सिंह की पत्नी रागिनी सिंह को मैदान में उतारा है. 

First Published: Dec 08, 2019 07:34:51 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो