भारत ने पाकिस्‍तान के एफ 16 लड़ाकू विमान को मार गिराया, सीमा पर जंग के हालात

News State Bureau  |   Updated On : February 27, 2019 03:08:36 PM

नई दिल्ली:  

पाकिस्तान में आतंकी ठिकानों पर भारत की कार्रवाई के बाद सीमा पर युद्ध जैसे हालात पैदा हो गए हैं. पाकिस्तानी वायुसेना द्वारा भारतीय सीमा में घुसपैठ के बाद भारत ने जवाबी कार्रवाई की है. जम्मू-कश्मीर के नौशेरा सेक्टर के लाम वैली में पाकिस्तानी वायुसेना के F-16 प्लेन को मार गिराया है. भारतीय विमानों ने जवाबी कार्रवाई में पीओके में 3 किलोमीटर तक जाकर पाकिस्तानी विमान को मार गिराया गया है. भारतीय वायुसेना की जवाबी कार्रवाई के बाद पाकिस्तान ने अपने एयरस्पेस बंद कर लिया है. सीमा से सटे सभी इलाकों में हाई अलर्ट जारी किया गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मौजूदा स्थिति को लेकर उच्च स्तरीय बैठक कर रहे हैं.

वहीं राजनाथ सिंह ने भी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल, गृह सचिव राजीव गौबा, इंटेलीजेंस ब्यूरो प्रमुख राजीव जैन और रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (RAW) के प्रमुख अनिल कुमार धस्माना के अलावा अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की.

इससे पहले समाचार एजेंसी पीटीआई ने बताया कि पाकिस्तानी वायुसेना का विमान एलओसी का उल्लंघन करते हुए जम्मू-कश्मीर के नौशेरा सेक्टर में सीमावर्ती इलाके में भारतीय हवाई क्षेत्रों में घुसा, लेकिन हवाई पैट्रोलिंग पर तैनात भारतीय विमानों ने खदेड़ते हुए उसे तुरंत वापस भेज दिया गया.

एजेंसी ने बताया है कि वापस जाते हुए पाकिस्तानी विमानों ने बम भी गिराए हैं. हालांकि भारत सरकार ने इसकी अभी पुष्टि नहीं की है. पाकिस्तानी विमानों से भारत में किसी तरह का नुकसान नहीं हुआ है.

पाकिस्तानी घुसपैठ के बाद श्रीनगर एयरपोर्ट के रनवे खाली करा लिए गए हैं. सुरक्षा कारणों से लेह, जम्मू, श्रीनगर, अमृतसर, चंडीगढ़ और पठानकोट में एयरपोर्ट को हाई अलर्ट पर रखा गया है और सभी जगहों पर यात्री विमानों को रद्द कर दिया गया है.

वहीं पाकिस्तान ने भी लाहौर, मुल्तान, फैसलाबाद, सियालकोट और इस्लामाबाद एयरपोर्ट से घरेलू और अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट ऑपरेशन बंद कर दिए हैं.

पुलवामा में आत्मघाती हमले में सीआरपीएफ के 40 जवानों के शहीद होने के 12 दिनों बाद भारत ने मंगलवार तड़के पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में बालाकोट स्थित जैश-ए-मोहम्मद (JeM) के सबसे बड़े प्रशिक्षण शिविर पर हवाई हमला किया था, इसमें 'बड़ी संख्या में' आतंकवादी और उनके प्रशिक्षक मारे गए.

विदेश सचिव विजय के.गोखले ने कहा था कि इस अभियान में जेईएम के बड़ी संख्या में आतंकवादियों, प्रशिक्षकों, वरिष्ठ कमांडरों व जिहादियों के समूह को मार गिराया गया। इन्हें फिदायीन हमले के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा था.

इसके कुछ घंटे के भीतर पाकिस्तान ने भी भारत को जवाब देने की धमकी दी थी. पाकिस्तान ने स्वीकार किया कि आईएएफ के लड़ाकू विमानों ने बम गिराए और पाकिस्तान की जवाबी कार्रवाई के बाद वे वापस लौट गए, इस वजह से जमीन पर ज्यादा नुकसान नहीं हुआ.

First Published: Feb 27, 2019 12:02:58 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो