BREAKING NEWS
  • हेलीकॉप्टर घोटाला: ईडी ने अदालत से राजीव सक्सेना की जमानत रद्द करने का किया अनुरोध- Read More »
  • चंद्रयान-2 समय पर लांच नहीं होने के बावजूद भी वैज्ञानिकों ने इसरो की तारीफ की, जानिए क्या है वजह- Read More »
  • साेते समय इन 16 बातों का अगर नहीं रखते ध्‍यान तो आपको बर्बाद होने से कोई नहीं बचा सकता - Read More »

करतारपुर कॉरिडोर को बेहतर और सुरक्षित बनाने के लिए भारत 500 करोड़ रुपये खर्च करेगा

News State Bureau  |   Updated On : July 12, 2019 05:13 PM
करतारपुर (फाइल)

करतारपुर (फाइल)

नई दिल्ली:  

पाकिस्तान में स्थित करतारपुर कॉरीडोर पर भारत और पकिस्तान के विशेषज्ञ मसौदे पर चर्चा के लिए पूरी तरह से तैयार हैं. दोनों देशों के विशेषज्ञ रविवार (14 जुलाई) को वाघा बॉर्डर पर बैठक करेंगे. दोनों देशों के विशेषज्ञ करतारपुर कॉरीडोर के तकनीकि मुद्दों पर भी चर्चा करेंगे. भारत करतारपुर कॉरिडोर को बेहतर और सुरक्षित बनाने के लिए 500 करोड़ रुपये खर्च करेगा. आपको बता दें कि करतारपुर कॉरिडोर पाकिस्तान के करतारपुर स्थित दरबार साहिब को गुरदासपुर जिला स्थित डेरा बाबा नानक गुरुद्वारा से जोड़ेगा. इसके साथ ही भारतीय सिख श्रद्धालु बिना वीजा के भी इस तीर्थस्थल पर आसानी से आ सकेंगे. करतारपुर साहिब को सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव ने वर्ष 1522 में स्थापित किया था.

आपको बता दें कि भारत सरकार भी गुरु नानक देव की 550वीं वर्षगांठ के अवसर पर चाहता है कि दोनों ओर से करतारपुर कॉरीडोर का रास्ता दोनों देशों की तरफ से साफ हो जाए ताकि श्रद्धालु आसानी से यहां आ सकें. इस वार्ता के लिए भारत अपनी तरफ से पूरी उम्मीदों के साथ आगे बढ़ रहा है. आपको बता दें कि भारत इस तीर्थस्थल पर जाने के लिए विशेष अवसरों और त्योहारों पर लगभग 10,000 तीर्थयात्रियों और प्रतिदिन 5000 तीर्थयात्रियों को यहां अपनी तरफ से पूरा सहयोग देने की तैयारी में लगा हुआ है.

यह भी पढ़ें-पाकिस्तान सरकार 8 नवंबर को खोल देगी करतारपुर कॉरिडोर: डॉ. रूप सिंह

भारत की ओर से करतारपुर कॉरीडोर को लेकर आगामी अक्टूबर तक काम पूरा होने की संभावना है. आपको बता दें कि पाकिस्तान स्थित गुरु नानक साहिब के गुरुद्वारा डेरा साहिब करतारपुर जाना चाह रहे भारत के तीर्थयात्रियों को सुरक्षित और आसान रास्ता मुहैया करवाने के लिए भारत इस काम को बहुत तेजी से पूरा करने की कोशिश कर रहा है. वहीं सूत्रों की मानें तो पाकिस्तान अपनी ओर से इस काम के लगभग 70 फीसदी हिस्से को पूरा कर चुका है.

एमएस सिरसा ने पाक पीएम को किया आमंत्रित
दिल्ली सिख गुरुद्वारा कमेटी के प्रबंधक एमएस सिरसा ने 25 जुलाई को पाक पीएम को गुरुद्वारा नानकाना साहिब (पाक में) आमंत्रित किया और उन्हें उम्मीद है कि वह इस आमंत्रण को स्वीकार करेंगे. हम गुरु नानक देव जी के दर्शन का पालन करते हैं, हमारा मानना है कि यह दोनों देशों के सरकारों के लिए बेहतर माहौल बनाने के लिए बहुत ही सुनहरा अवसर है.  

यह भी पढ़ें-खालिस्तानी अभियान को बढ़ावा दे रहा पाकिस्तान, जानिए क्यों चिंतित है भारत

HIGHLIGHTS

  • करतारपुर कॉरीडोर पर वार्ता के लिए दोनो देश तैयार
  • भारत और पाकिस्तान तेजी से कर रहे हैं काम
  • सिख श्रद्धालु बिना वीजा के भी दर्शन कर सकेंगे
First Published: Friday, July 12, 2019 04:49 PM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Kartarpur Corridor, Pakistan, Anniversary Of Guru Nanak Dev Ji, Sikh Pilgrims, 550th Anniversary Of Guru Nanak Dev,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

अन्य ख़बरें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो