भारत ने 3 पाकिस्तानियों को वैश्विक आतंकी घोषित किए जाने का स्वागत किया

IANS  |   Updated On : August 01, 2018 11:28:01 PM
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

भारत ने बुधवार को अमेरिका द्वारा तीन पाकिस्तानी आतंकियों को विशेष रूप से वैश्विक आतंकी घोषित करने के कदम का स्वागत किया। इन्हें पाकिस्तान स्थित आतंकी समूह लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) को सहायक व वित्तीय मदद पहुंचाने को लेकर वैश्विक आतंकी घोषित किया गया है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने इस संबंध में पूछे गए सवालों पर बताया, 'भारत अमेरिका के विदेश विभाग और राजकोष विभाग द्वारा तीन पाकिस्तानी आतंकियों और आतंकी संगठगन को धन मुहैया करवाने वालों को विशेष रूप से वैश्विक आतंकी (एसडीटीजी) घोषित करने का स्वागत करता है।'

कुमार ने कहा, 'यह घोषणा भारत के तर्कयुक्त रुख को साबित करता है कि एलईटी और इसके अगुवा फलह-ए- इंसानियत फाउंडेशन (एफआईएफ) समेत अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बनाए गए आतंकी समूह और लोग पाकिस्तान में निर्भय होकर कार्य करते हैं और वित्तीय संसाधन जुटाते हैं और वहां से भारत और दक्षिण एशिया में अन्य जगहों पर सीमापार आतंकी गतिविधियों को अंजाम देते हैं।'

और पढ़ें: NRC में नाम नहीं फिर भी बने रहेंगे वोटर, आखिर EC ने क्यों कहा ऐसा? 

उन्होंने कहा, 'वैश्विक आतंकी घोषित किए जाने की हालिया घटना से ऐसे आतंकी तत्वों के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई करने की पाकिस्तान की निष्ठा पर सवाल उठता है।'

अमेरिकी विदेश विभाग ने एक आदेश के तहत मंगलवार को अब्दुल रहमान अल-दाखिल को एसडीजीटी के रूप में घोषित किया। इस आदेश के तहत आतंकवादी कार्य को अंजाम देने और अमेरिकी नागरिकों या राष्ट्रीय सुरक्षा, विदेश नीति या अमेरिकी अर्थव्यवस्था को खतरा पैदा करने वाले विदेशियों पर प्रतिबंध लगाया जाता है। 

वहीं, अमेरिकी राजकोष विभाग ने हमीद-उल-हसन और अब्दुल जब्बार को एक अन्य आदेश के तहत एसडीजीटी के रूप में घोषित किया। 

और पढ़ें: SC/ST एक्ट पर संशोधन बिल लाएगी मोदी सरकार, दलित सांसद बना रहे थे दबाव 

First Published: Aug 01, 2018 11:25:08 PM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो