BREAKING NEWS
  • अयोध्या मामले में किस पक्षकार ने लिखित जवाब में क्या कहा, जानें यहां- Read More »
  • अयोध्या मामले में किस पक्षकार ने लिखित जवाब में क्या कहा, जानें यहां- Read More »
  • कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी बोलीं- अर्थव्यवस्था में सुधार लाएं, कॉमेडी सर्कस न चलाएं- Read More »

चीफ ऑफ डिफेंस स्‍टाफ का होगा गठन, लाल किले से प्रधानमंत्री ने की बड़ी घोेषणा

News State Bureau  |   Updated On : August 15, 2019 10:22:11 AM
पीएम मोदी नरेंद्र मोदी (फाइल ANI)

पीएम मोदी नरेंद्र मोदी (फाइल ANI) (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  सेना के लिए प्रधानमंत्री ने की ये बड़ी घोषणा.
  •  15 अगस्त 1947 को भारत को ब्रिटिश राज से मिली थी आजादी.
  •  आज भारत अपना 73वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है.

नई दिल्ली:  

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 73वें स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य पर लाल किले से देश की तीनों सेनाओं के लिए एक बड़ा ऐलान किया है. पीएम मोदी ने तीनों सेनाओं के सेनापति चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ यानी CDS का पद सृजित करने का बड़ा ऐलान किया है. पीएम मोदी का मानना है कि दुनिया बदल रही है और इस बदलती दुनिया में हमें भी किसी से पीछे नहीं रहना है.

पीएम मोदी के मुताबिक, देश की तीनों सेनाओं में से ऐसा नहीं होना चाहिए कि आपकी एक सेना बहुत आगे है, एडवांस है और दूसरी नहीं है. पीएम मोदी ने कहा कि देश की तीनों सेनाओं में एडवांसमेंट का काम तो बहुत दिन से चल रहा है लेकिन अभी हम उतनी उन्नत तकनीक नहीं ला पाए हैं. 

यह भी पढ़ें: Article 370 Scrapped: जो 70 साल से हो न सका उसे हमने 70 दिन में करके दिखा दिया: पीएम मोदी

पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने बयान में साफ किया कि भारत की तीनों सेनाओं में सामंजस्य होना जरूरी है तभी हमारी सेना ताकतवर हो सकते है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारी पूरी सैन्य शक्ति को एक साथ होकर एक साथ आग बढ़ने में काम करना होगा. अब हम चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ यानी सीडीएस की व्यवस्था करेंगे. इस पद के गठन के बाद तीनों सेनाओं के शीर्ष स्तर एक प्रभावी नेतृत्व मिल पाएगा.

यह भी पढ़ें: जब बच्चों के बीच बच्चे बन गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

क्यों उठी ये मांग
जब भारत पाकिस्तान से 1999 में कारगिल का युद्ध कर रहा था तब देश की तीनों सेनाओं के बीच तालमेल में कमी देखी गई. जिस वजह से भारत की सेनाएं अपनी सैन्य क्षमता के मुताबिक प्रदर्शित नहीं कर पाई थीं. चीफ ऑफ स्टाफ का मुख्य काम तीनों सेनाओं के बीच तालमेल बिठाना होता है. इसके बाद से ही चीफ ऑफ स्टाफ की स्थायी पद की मांग उठने लगी थी. बता दें कि 2012 में नरेंद्र चंद्र कार्यदल ने इसके लिए एक पर्मानेंट पद चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बनाने की मांग की थी.

बता दें कि आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत के 73वें स्वतंत्रता दिवस पर सबसे पहले झंडारोहण किया इसके बाद करीब देश को संबोधित करते हुए करीब 92 मिनट का भाषण दिया. इस भाषण में पीएम मोदी ने आतंकवाद, जम्मू कश्मीर के धारा 370 और 35-ए का हटाया जाना, जल संरक्षण, समुद्री पानी का ट्रीटमेंट, जनसंख्या विस्फोट, भारत का दुनिया में स्थिति, राजनीति में भाई-भतीजावाद, सरकार की नीति, तीन तलाक, भारत की तीनों सेनाओं के लिए अमेरिका की तर्ज पर चीफ आफ स्टाफ का गठन , देश के लिए नई योजनाओं के बारे में बात की. इसके साथ ही अपने भाषण में विपक्ष पर भी निशाना साधा.

First Published: Aug 15, 2019 08:56:34 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो