अल कायदा ने भारत में नया कमांडर हमीद लेल्हारी को बनाया, लेगा जाकिर मूसा की जगह

News State Bureau  |   Updated On : June 07, 2019 12:29:40 PM
अलकायदा भारत का नया कमांडर हमीद लेल्हारी.

अलकायदा भारत का नया कमांडर हमीद लेल्हारी. (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  गजवत-उल-हिंद ने वीडियो जारी कर हमीद लेल्हारी को भारतीय कमांडर बताया.
  •  लेल्हारी के डिप्टी बतौर गाजी इब्राहिम खालिद को जिम्मेदारी दी गई.
  •  हिज्बुल मुजाहिदीन कमांडर औरएजीएच प्रमुख जाकिर मूसा का लेगा स्थान.

नई दिल्ली.:  

सुरक्षा बलों (Security Forces) द्वारा जाकिर मूसा (Zakir Musa) को मुठभेड़ में मार गिराने के दो हफ्ते बाद अलकायदा की कश्मीर इकाई ने उसके उत्तराधिकारी का नाम घोषित कर दिया है. गजवत-उल-हिंद (एजीएच) की ओर से जारी वीडियो में हमीद लेल्हारी को भारत में अलकायदा (AlQaida) का नया कमांडर नियुक्त किया गया है. 30 साल का हमीद पुलवामा का रहने वाला है. इसके साथ ही उसके सहयोगी का नाम भी घोषित किया गया है.

यह भी पढ़ेंः अलीगढ़ में मासूम बच्ची की हत्या की वजह आई सामने, 2 आरोपी गिरफ्तार

ईद के दिन जारी वीडियो में बनाया गया मूसा का वारिस
ईद के दिन जारी वीडियो में अल कायदा से जुड़े संगठन ने कहा है जम्मू-कश्मीर के पुलवामा (Pulwama) का रहने वाला हमीद जाकिर मूसा का स्थान लेगा. उसके सहयोगी बतौर गाजी इब्राहम खालिद (Gazi Ibrahim Khalid) को नियुक्त किया गया है. गौरतलब है कि ईद पर जाकिर मूसा और मसूद अजहर का पोस्टर लिए युवाओं ने सुरक्षा बलों पर जबर्दस्त पथराव किया था.

यह भी पढ़ेंः लापता दो SPO बन गए थे जैश-ए-मोहम्‍मद के आतंकी, सुरक्षाबलों ने मार गिराया

23 मई को मारा गया था जाकिर मूसा
कश्मीर में अल कायदा का स्वघोषित कमांडर जाकिर मूसा 27 जुलाई 2017 को सामने आया था. इसके पहले बुरहान वानी (Burhan Wani) की मौत के बाद वह हिजबुल मुजाहिदीन को नेतृत्व दे रहा था. जाकिर मूसा ने खुद को कमांडर घोषित करते हुए कहा था, 'हम आजादी बराए इस्लाम (Azadi baraye Islam) के लिए लड़ाई लड़ रहे हैं. मेरे खून का एक-एक कतरा इस्लाम के लिए है.' हालांकि 23 मई को त्राल में हुई मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने जाकिर मूसा को ढेर कर दिया था.

यह भी पढ़ेंः राजधानी-शताब्दी चलाने का जिम्मा प्राइवेट कंपनी को देने पर विचार कर रही रेलवे

एनआईए भी तलाश रही थी जाकिर मूसा को
जाकिर मूसा का मारा जाना सुरक्षा बलों के लिए एक बड़ी कामयाबी थी. जाकिर ने बीते छह सालों में सरकारी प्रतिष्ठानों और सुरक्षा बलों पर कई आतंकी घटनाओं को अंजाम दिया था. पिछले साल जालंधर में हुए श्रंखलाबद्ध धमाकों में भी जाकिर मूसा का नाम आया था. उन धमाकों की जांच करने के बाद एनआईए ने भी जाकिर मूसा को भगौड़ा और वांछित घोषित कर दिया था.

First Published: Jun 07, 2019 12:29:33 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो