BREAKING NEWS
  • RBI गवर्नर का बड़ा बयान, कहा-वैश्विक विकास धीमा, लेकिन दुनिया में नहीं है कोई मंदी- Read More »

मुन्ना बजरंगी मर्डर केस: सुनील राठी को बागपत से फतेहगढ़ सेंट्रल जेल भेजा जाएगा

News State Bureau  |   Updated On : July 14, 2018 10:49:38 AM
कुख्यात गैंगस्टर मुन्ना बजरंगी (फोटो- PTI)

कुख्यात गैंगस्टर मुन्ना बजरंगी (फोटो- PTI)

नई दिल्ली:  

यूपी के बागपत जिले की जेल में गैंगस्टर प्रेम प्रकाश सिंह उर्फ मुन्ना बजरंगी की हत्या के आरोपी सुनील राठी को फतेहगढ़ के केंद्रीय जेल में भेजा जाएगा।

यूपी सरकार के आदेश के बाद सुनील राठी को बागपत जेल से फतेहगढ़ केंद्रीय जेल भेजा गया है। यूपी पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि जेल प्रशासन की राठी को दूसरे जेल भेजने की रिपोर्ट के बाद राज्य सरकार ने यह कदम उठाया है।

अधिकारियों ने बताया कि सुनील राठी ने मुन्ना बजरंगी की हत्या कर दी थी। सुनील राठी पिछले साल 31 जुलाई से बागपत जेल में बंद है।

51 साल का मुन्ना बजरंगी 40 आपराधिक मामलों में आरोपी था जिसमें मर्डर और वसूली जैसे अपराध भी शामिल है।

और पढ़ें: 'हिंदू पाकिस्तान' पर मुश्किल में थरूर, कोलकाता के कोर्ट ने भेजा नोटिस

गौरतलब है कि 9 जुलाई की सुबह सुनील राठी और मुन्ना बजरंगी के बीच विवाद हुआ था। इसमें सुनील राठी ने मुन्ना बजरंगी पर कई राउंड फायर कर उसकी हत्या कर दी।

टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के अनुसार पुलिस पूछताछ में सुनील राठी ने बताया कि मुन्ना ने उसके शरीर को लेकर टिप्पणी की थी जिससे गुस्सा होकर उसने उसे गोली मार दी।

सुनील ने पुलिस को बताया, 'उसने मुझसे कहा कि मैं बहुत मोटा हूं। मुझे यह पसंद नहीं आया। मैंने बजरंगी से कहा कि पहले खुद को देखो। जिसके बाद हम दोनों के बीच बहस शुरू हो गई और उसने माउजर बंदूक मेरे ऊपर तान दी। मैंने बंदूक खींच ली और उसे लात मारकर गिरा दिया। जैसे ही वह गिरा, मैंने बंदूक की पूरी गोली उस पर खाली कर दी।'

गोली मारने के बाद सुनील राठी ने हत्या में इस्तेमाल हथियार को गटर में फेंक दिया। बजरंगी को एक मामले में अदालत में पेश किया जाना था।

हालांकि इस पूरे मामले में प्रशासनिक कार्रवाई भी की गई और जिला कारागार के चार कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया।

मुन्ना बजरंगी की हत्या के बाद सहमा मुख़्तार अंसारी

यूपी की बांदा जेल में बंद बाहुबली बीएसपी विधायक और पूर्वांचल के माफिया डॉन मुख्तार अंसारी सोमवार को बागपत जेल में अपने सहयोगी डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या से सहम गए हैं।

जेल प्रशासन ने अंसारी को त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की है। मुख्तार अंसारी बांदा की जेल में 30 मार्च 2017 से बंद हैं।

और पढ़ेंः दिग्विजय का बीजेपी पर हमला, कहा- पाकिस्तान की तरह धार्मिक उग्रवाद को बढ़ावा दे रही है सरकार

First Published: Jul 14, 2018 10:41:49 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो