दुबई में बस दुर्घटना में मारे गए 12 भारतीयों के शव घर भेजने की कवायद जारी

PTI  |   Updated On : June 08, 2019 09:33:05 PM
प्रतिकात्मक फोटो

प्रतिकात्मक फोटो (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  दुबई में बस दुर्घटना में मारे गए 12 भारतीयों के शवों को घर भेजने की तैयारी
  •  11 मृत भारतीयों की फॉरेंसिक रिपोर्ट जारी हो चुकी है
  •  शवों को भारत लाने के लिए एयर इंडिया हरसंभव मदद कर रही है

नई दिल्ली:  

दुबई में बस दुर्घटना में मारे गए 12 भारतीयों के शवों को घर भेजने के लिए फॉरेंसिक सहित अन्य सभी औपचारकताओं को भारतीय वाणिज्य दूतावास तेजी से पूरा करने में जुटा है. ओमान से आ रही एक बस गुरुवार को गलत लेन में घुस गई थी और एक संकेतक से टकरा गई थी. हादसे में 17 लोगों की मौत हुई थी जिनमें 12 भारतीय शामिल हैं. हादसे में नौ लोग घायल भी हुए हैं. दुबई में भारत के महावाणिज्य दूत विपुल ने शुक्रवार देर रात ट्वीट किया 11 मृत भारतीयों की फॉरेंसिक रिपोर्ट जारी हो चुकी है और एक फॉरेंसिक रिपोर्ट अभी नहीं मिली है.

उन्होंने लिखा, ‘इसके बाद, पूरे दस्तावेजों के साथ शवों को पहले संलेपन (सुरक्षित करने) के लिए और फिर भारत भेजा जाएगा.’

इसे भी पढ़ें: पीएम मोदी को मालदीव के सर्वोच्च सम्मान 'निशान इज्जुद्दीन' से किया गया सम्मानित

विपुल ने लिखा, ‘हम आशा करते हैं कि सभी शव कल (शनिवार) और उसके अगले दिन भारत भेज दिए जाएंगे. एयर इंडिया हरसंभव मदद कर रही है. हम सहायता के लिए दुबई पुलिस और सभी अस्पताल अधिकारियों को धन्यवाद देना चाहेंगे.’

उन्होंने कहा कि मृत भारतीयों के संबंध में वाणिज्य दूतावास की औपचारिकताएं मौके पर ही पूरी कर ली गई थीं और उनकी टीम पूरे दिन स्थानीय अधिकारियों तथा स्वयंसेवकों के साथ काम करती रही.

और पढ़ें: ममता बनर्जी से मुलाकात को लेकर नीतीश कुमार ने प्रशांत किशोर को सफाई देने को कहा

बस दुर्घटना में मारे गए भारतीयों में विक्रम जवाहर ठाकुर, विमल कुमार कार्तिकेयन केसवपिलैकर, किरण जॉनी जॉनी वेलीतोताहिल पैली, फिरोज खान अजीज पठान, रेशमा फिरोज खान पठान, जमालुद्दीन अराकावीतील, वासुदेव विशनदास, राजन पुतियापुरयिल गोपालन, प्रबुला माधवन दीप कुमार, रोशनी मूलचंदानी, उमर चोनोकातवात मम्माद पुतेन, नबिल उमर चोनोकातवात शामिल हैं.

First Published: Jun 08, 2019 09:31:18 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो