प्रयागराज में कुंभ का समापन, सीएम योगी ने कहा- कुशल प्रबंधन और आयोजन के लिए आप सभी प्रशंसा के पात्र

News State Bureau  |   Updated On : March 05, 2019 11:36:32 PM
यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (IANS फाइल फोटो)

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (IANS फाइल फोटो) (Photo Credit : )

नई दिल्ली :  

प्रयागराज में चल रहे कुंभ में महाशिवरात्रि के आखिरी स्नान के साथ धार्मिक पर्व का समापन हुआ. करोड़ो श्रद्घालुओं ने कुंभ में आस्था की डुबकी लगाई. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 15 जनवरी से 4 मार्च तक कुंभ का भव्य और दिव्य आयोजन आज समापन की ओर जा रहा है, इस अवसर पर कैबिनेट के सहयोगी, साशन प्रशासन की टीम पीएम मोदी का अभिवादन और बधाई. सूबे के मुख्यमंत्री ने कहा कि अखाड़ा परिषद की मांग थी कुंभ की शुरुआत गंगा पूजा से होनी है. पीएम नरेंद्र मोदी ने गंगा की पूजा से कुंभ मेले की शुरुआत की,जिसके बाद कुंभ में सफलता के नए कीर्तिमान बनाये. धार्मिक पर्व के समापन पर योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पहली बार कुंभ का सर्वसिद्धि प्रदः नाम का लोगो बना. पहली बार 3 विश्व रिकॉर्ड बने, 6 हज़ार संस्थाएं जुड़ी, पहली बार अक्षयवट, सरस्वती कूप का दर्शन हुए, 193 देशों के प्रतिनिधि कुंभ के आयोजन से जुड़े और भारतीय संस्कृति को जाना, 3200 प्रवासियों ने एक दिन संगम में डुबकी लगाई.

रिपोर्टस के मुताबिक, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कुंभ के सफल आयोजन पर अधिकारियों और कर्मचारियों को एक महीने का वेतन बोनस के रूप में देने और विशेष मेडल के साथ प्रमाण पत्र देने की घोषणा की.

उन्होने आगे कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के प्रयास से पहली बार कुंभ को मानवता की अमूर्त धरोहर का दर्जा मिला. कुंभ की स्वच्छता से संदेश के चलते पीएम यहां आए उन्होंने न सिर्फ संगम में डुबकी लगाई बल्कि सफाई कर्मियों को पैर धोकर सर्वोच्च सम्मान दिया, ये सामाजिक समरसता का उदाहरण है. सालों पहले हुए हादसे का जिक्र करते हुए सीएम योगी ने कहा कि 1954 के कुंभ में 40 लाख श्रद्धालु आये तो भगदड़ में 800 लोग मारे गये. 2013 में भगदड़ में तीन दर्जन दर्जन श्रद्धालु मारे गए. इस बार का कुंभ स्वच्छ और सुरक्षित कुंभ भी था। 2013 में महाकुंभ था जिसमें 12 करोड़ श्रद्धालु आये थे. इस बार कुंभ था लेकिन 24 करोड़ श्रद्धालु आये.

सीएम योगी ने कहा कि कुंभ के बाद पर्यटन के क्षेत्र में अब देश में नंबर वन होगा. इतना विशाल आयोजन होने के बाद कहीं गंदगी नही दिखी. 2013 में भी मॅारीशस के प्रधानमंत्री आये थे लेकिन गंदगी देखकर उन्होने स्नान नही किया था. इस बार मॅारीशस के प्रधानमंत्री की स्नान की योजना नही थी लेकिन साफ सफाई देखकर उन्होंने संगम में स्नान किया. उनके साथ 3200 प्रवासियों ने भी कुंभ में स्नान किया. हेलीकॉटर से पुष्पवर्षा लोगों के लिए न भूलने वाली स्मृति बनी लोग हेलीकाप्टर से गिराए फूल घर को ले गए और सम्भाल कर रखा है. 14 जनवरी को शुरू हुए पर्व का समापन चार मार्च को महाशिवरात्रि के मौके पर छठे और अंतिम शाही स्नान के साथ होगा.

First Published: Mar 05, 2019 11:36:26 PM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो