लॉकडाउन के बीच पहला जुमा आज, असदुद्दीन ओवैसी ने की मुसलमानों से ये खास अपील

News State Bureau  |   Updated On : March 27, 2020 07:44:56 AM
namaz

लॉकडाउन के बीच पहला जुमा आज (Photo Credit : फाइल फोटो )

नई दिल्ली:  

लॉकडाउन का आज तीसरा दिन है. सभी लोग इस लोकडाउन में सहयोग करत हुए अपने घरों में बंद है और इसका उल्लंघन कर रहे हैं, पुलिस उनके खिलाफ सख्त रुख अख्तियार किए हुए है. इस बीच आज यानी शनिवार को लॉकडाउन के बीच जुमे का पहला दिन है. ऐसे में AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने मुस्लिम समाज के लोगों से अपील की है कि लोग घर पर ही नमाज पढ़ें.

ओवैसी ने ट्वीट करते हुए लोगों से ये अपील की है. उन्होंने कहा, आज मेरी सभी मुसलमानों से ये अपील है कि आज जोहर की नमाज घर से ही पढ़ें और कहीं भी इकट्ठा न हों.

बता दें, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार यानी 24 मार्च को लोगों से अपील की थी कि कोरोना के संकट को रोकने के लिए अपने घर में ही रहें और इसी के साथ उन्होंने 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की थी.

यह भी पढ़ें: फतवे व राष्ट्रपति की अपील के बावजूद पाकिस्तानी उलेमा मस्जिदें बंद न करने पर अड़े

इससे पहले लॉकडाउन (Lockdown) का दूसरा दिन गुरुवार कोरोना वायरस के हताहतों के लिहाज से अच्छा नहीं गया. इस एक दिन में ही 8 नई मौतों के साथ कोविड-19 (KOVID-19) संक्रमण के 88 नए मामले सामने आए, जो अब तक एक दिन के लिहाज से सबसे ज्यादा है. वैश्विक बिरादरी के आंकड़े में डराने वाले हैं. गुरुवार तक ही वायरस (Corona Virus) से संक्रमित लोगों की संख्या 5 लाख पार कर गई है, जबकि मृतक संख्या 22 हजार से ज्यादा हो चुकी है. ठीक हो चुके मरीजों की संख्या तकरीबन 1.21 लाख हो चुकी है.

यह भी पढ़ें: G20 देशों से बोले पीएम मोदी, कोरोना से जंग हम सबको मिलकर लड़नी होगा

देश में महाराष्ट्र सर्वाधिक प्रभावित

भारत में कोरोना वायरस के संक्रमण के 694 मामलों की पुष्टि हो चुकी है, जिनमें से 16 लोगों की मौत हो चुकी है. केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की वेबसाइट पर गुरुवार की शाम उपलब्ध जानकारी के अनुसार, 'देश में कोराना वायरस के अब तक 694 मामले की पुष्टि हुई है, जिनमें 647 भारतीय जबकि 47 विदेशी शामिल हैं. देश में कोरोना वायरस से पीड़ित 45 मरीज ठीक हो चुके हैं जबकि 16 लोगों की मौत हो गई है.' देश में महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 121 मामले सामने आए हैं. इसके बाद नंबर केरल का है, जहां 110 मामले है.

First Published: Mar 27, 2020 07:42:30 AM

न्यूज़ फीचर

वीडियो