फारूक अब्दुल्ला की बहन और बेटी जेल से रिहा, ऑर्टिकल 370 के विरोध में मंगलवार को हुई थीं गिरफ्तार

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : October 16, 2019 11:46:50 PM
फारुख अब्दुल्ला

फारुख अब्दुल्ला (Photo Credit : फाइल )

नई दिल्‍ली:  

नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला की बहन और बेटी समेत महिला प्रदर्शनकारियों को यहां बुधवार शाम को एक अदालत ने जमानत पर रिहा कर दिया. इन्हें प्रदर्शन मार्च के बाद मंगलवार को गिरफ्तार किया गया था. अधिकारियों ने बताया कि अब्दुल्ला की बहन सुरैया, बेटी साफिया और 11 अन्य महिलाओं ने आपराधिक दंड संहिता की धारा 107 के तहत 10,000 रुपये का निजी मुचलका और 40,000 रुपये की जमानत भरते हुए आश्वासन दिया कि वे शांति बनाए रखेंगे.

उन्होंने बताया कि श्रीनगर केंद्रीय कारागार में बंद महिलाओं को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट द्वारा जमानत दिए जाने के बाद बुधवार शाम को करीब छह बजे रिहा किया गया. सुरैया और साफिया ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को हटाने और उसे दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए महिला कार्यकर्ताओं के एक समूह का नेतृत्व किया था जिन्होंने बाजू पर काली पट्टी बांधी हुई थी और हाथ में तख्तियां ली हुई थी.

यह भी पढ़ें-बढ़ती महंगाई की वजह से प्याज, टमाटर और लहसुन की हो रही है चोरी, जानें हैरान करने वाला मामला

पुलिस ने उन्हें एकत्रित होने की अनुमति नहीं दी और शांतिपूर्वक जाने के लिए कहा. हालांकि उन्होंने ऐसा करने से इनकार कर दिया और धरना देने की कोशिश की जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया. केंद्र सरकार के पांच अगस्त के फैसले के बाद तीन पूर्व मुख्यमंत्रियों फारूक अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला समेत तीन कई नेताओं को हिरासत में लिया गया था. फारूक अब्दुल्ला पर पिछले महीने जन सुरक्षा कानून के तहत मामला दर्ज किया गया था.

यह भी पढ़ें-बिहार के गौतम बने 'KBC 11' के तीसरे करोड़पति, कहा-पत्नी की वजह से मिला मुकाम 

First Published: Oct 16, 2019 11:46:50 PM
Post Comment (+)

Live Scorecard

न्यूज़ फीचर

वीडियो