हज करने गए थे और कोरोना लेकर लौटे, एक ही परिवार के 12 लोग संक्रमित

News State  |   Updated On : March 27, 2020 08:54:50 AM
Kolhapur Corona Virus

सांगली गांव के परिवार के सभी सदस्यों को कोरोना संक्रमण. (Photo Credit : न्यूज स्टेट )

ख़ास बातें

  •  कोरोना वायरस से महाराष्ट्र का एक पूरा परिवार हुआ पीड़ित.
  •  कोल्हापुर के परिवार के चार सदस्य गए थे हज करने.
  •  उनके संपर्क में आ परिवार के अन्य सदस्य हुए संक्रमित.

मुंबई:  

कोरोना वायरस (Corona Virus) लॉकडाउन के बीच महाराष्ट्र (Maharashtra) में संक्रमित लोगों की संख्या काफी तेजी से बढ़ रही है. यहां अब तक 130 मामले सामने आ चुके हैं. हालांकि कोल्हापुर में एक अनोखा मामला सामने आया है. यहां के एक ही परिवार के 12 लोग कोविड-19 (COVID-19) वायरस के पॉजिटिव पाए गए हैं. पता चला है कि इन्हें यह संक्रमण घर के उन चार सदस्यों से मिला, जो हज करने गए थे. वहां से लौटने के बाद उनसे परिवार के अन्य सदस्यों को कोरोना वायरस ने अपनी चपेट में लिया है. यह खबर मीडिया में छाई हुई है. गौरतलब है कि अब तक देश में संक्रमित लोगों की संख्या 727 के पार हो चुकी है और 20 लोग जान से हाथ धो बैठे हैं.

यह भी पढ़ेंः लॉकडाउन के बीच पहला जुमा आज, असदुद्दीन ओवैसी ने की मुसलमानों से ये खास अपील

इस्माइलपुर का है परिवार
अंग्रेजी अखबार द टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक सांगली जिले के इस्लामपुर गांव का रहने वाले इस परिवार के 4 सदस्य हज से लौटे थे. लौटने पर परिवार के 4 सदस्यों को अलग-थलग में रखा गया. जांच के बाद 23 मार्च को इन सबकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई. 25 मार्च को परिवार के 5 और सदस्यों का जांच कराया गया. ये पांचों भी पॉजिटिव पाए गए. इसके बाद परिवार के 3 और लोगों को बुलाया गया, जो पॉजिटिव निकले. इस तरह से एक ही परिवार के 12 लोग खतरनाक कोरोना वायरस की चपेट में आ गए.

यह भी पढ़ेंः कोरोना लॉकडाउन के दूसरे दिन 8 मौतें और 88 नए मामले, दुनिया में 22 हजार मरे | LIVE UPDATES

कई लोगो आ सकते है इसकी चपेट में
इस बीच सांगली जिले के सिविल सर्जन संजय सालुनखे ने कहा है कि परिवार के सम्पर्क में आने वाले सभी लोगों के सैंपल अब लिए जा रहे हैं. इन सबकी रिपोर्ट शुक्रवार को आएगी. डॉक्टरों को इस बात का डर है कि कोरोना की ये चेन काफी लंबी हो सकती है. यानी इस गांव के कई लोग इसकी चपेट में आ गए होंगे. इसके अलावा डॉक्टरों ने परिवार के सारे करीबी रिश्तेदारों को भी अलग-थलग कर दिया गया है.

यह भी पढ़ेंः फतवे व राष्ट्रपति की अपील के बावजूद पाकिस्तानी उलेमा मस्जिदें बंद न करने पर अड़े

महाराष्ट्र में बढ़ रही है संख्या
इस बीच महाराष्ट्र में कोरोना वारस से अब तक 3 लोगों की मौत हो गई है. जबकि 130 लोग अब तक संक्रमित हुए हैं. कोल्हापुर, सांगली और पुणे से एक-एक नए मामले सामने आए हैं. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कर्फ्यू के दौरान लोगों से कहा कि घबराने की जरूरत नहीं है. किराने का सामान, दूध, बेकरी, चिकित्सा आदि आवश्यक चीजों की दुकानें खुली रहेंगी. राज्य ने संक्रमण रोकने के लिए पूरे राज्य में कर्फ्यू लगा दिया, साथ ही सड़क पर थूकने वालों पर 1000 रुपये का जुर्माना लगाने की घोषणा की.

First Published: Mar 27, 2020 08:54:50 AM

न्यूज़ फीचर

वीडियो