दिल्ली से पुलिस ने गिरफ्तार किया चीनी जासूस, भारतीय पासपोर्ट और आधार कार्ड बरामद

News State Bureau  |   Updated On : September 21, 2018 12:24:15 PM
चीनी जासूस मामले की जांच चल रही है. (प्रतीकात्मक फोटो)

चीनी जासूस मामले की जांच चल रही है. (प्रतीकात्मक फोटो) (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

देश में चीनी जासूस को गिरफ्तार किया गया है. दिल्ली पुलिस ने 12 सितंबर को इस चीनी जासूस को गिरफ्तार किया है. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने एक चीन के कारोबारी को जासूसी के संदेह पर गिरफ्तार किया है. पुलिस ने आरोपी की पहचान चार्ली पेंग के रूप में की है. गिरफ्तारी के बाद चीन के जासूस को पुलिस रिमांड पर भेजा है. दिल्ली पुलिस का कहना है कि चीन के इस जासूस के पास से भारतीय पासपोर्ट और आधार कार्ड भी मिला है. पुलिस के मुताबिक, चार्ली का पासपोर्ट मणिपुर से जारी किया गया है, जबकि आधार कार्ड पर दिल्ली के द्वारका इलाके का पता दिया गया है. इसके अलावा दिल्ली पुलिस ने चार्ली के बॉस को हिरासत में लिया है. चार्ली पेंग के बॉस से एक फॉर्च्यूनर कार, साढ़े तीन लाख भारतीय करेंसी, 2000 हज़ार डॉलर, 22 हज़ार थाई करेंसी भी बरामद की गई है.

पुलिस को जासूस के पास से जो भारतीय पासपोर्ट मिला है, वह मणिपुर का है. सूत्रों के हवाले से मिल रही जानकारी के मुताबिक, चार्ली पांच साल पहले भारत आया था और मणिपुर में रहने वाली एक लड़की से शादी के बंधन में बंधा. मणिपुर की लड़की से शादी करने के बाद चार्ली ने भारतीय पासपोर्ट बनवाया और फिर गुरुग्राम में आकर रहने लगा. हालांकि अब तक इस बात की जानकारी नहीं मिल पाई है कि आखिरकार चार्ली ने दिल्ली के द्वारका के पते पर आधार कार्ड कैसे बनवाया.

पुलिस सूत्रों का कहना है कि चार्ली दिल्ली से सटे हरियाणा के गुरुग्राम के डीएलएफ में रह रहा था और वहीं से अपनी कंपनी चला रहा था. सूत्रों का ये भी कहना है कि चार्ली अपने काम के अलावा मनी एक्सचेंज का भी काम करता था, इसलिए उसका संपर्क कई बड़े हावाला कारोबारियों से हो सकता है. सूत्रों का कहना है कि चार्ली के तार देश के बड़े हवाला कारोबारियों से जुड़े होने के संकेत मिलने के बाद उनकी तलाश में कागजातों की छानबीन की जा रही है.

First Published: Sep 21, 2018 12:14:23 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो