INX केस में पी. चिदंबरम को लगा बड़ा झटका, अब 5 दिन तक रहेंगे CBI की कस्टडी में| Updates

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : August 23, 2019 12:03:12 AM
पूर्व गृहमंत्री पी चिदंबरम (PTI)

पूर्व गृहमंत्री पी चिदंबरम (PTI) (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

राउज ऐवन्यू कोर्ट ने सीबीआई की याचिका को मंजूर कर लिया है. पी चिदंबरम को 5 दिन की रिमांड पर भेज दिया है. 26 अगस्त तक चिदंबरम सीबीआई की रिमांड पर रहेंगे. इन पांच दिनों तक रोजाना सिर्फ आधे घंटे तक ही परिवारवाले पी चिदंबरम से मिल सकते हैं और 30 मिनट वकील उनसे मुलाकात कर सकते हैं. बता दें कि चिदंबरम की बुधवार रात भी सीबीआई के हेडक्वार्टर में बीती थी और अगले पांच दिनों तक वह वहीं रहेंगे.

यह भी पढ़ेंःINX मीडिया केस: पी चिदंबरम की ओर देश के 2 सबसे महंगे वकील, सीबीआई की ओर से ये गुजराती

सीबीआई की टीम ने बुधवार को देश के पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम को गिरफ्तार किया था. सीबीआई ने गुरुवार को राउज एवेन्‍यू कोर्ट में पी चिदंबरम को पेश किया, जहां उन्होंने उनकी 5 दिन की रिमांड मांगी थी. इस दौरान CBI की ओर से सॉलिसीटर जनरल तुषार मेहता और पी चिदंबरम की ओर से वरिष्ठ नेता अभिषेक मनु सिंघवी, कपिल सिंघल ने अपने-अपने पक्ष रखे. दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद कोर्ट ने सीबीआई के पक्ष में फैसला दिया.

यह भी पढ़ेंःचिदंबरम की याचिका पर ED के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट 27 अगस्त को करेगा सुनवाई

इसके बाद सीबीआई ने पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम को पांच दिन की कस्टडी में ले लिया है. सीबीआई की टीम उन्हें अपने साथ लेकर हेडक्वार्टर चली गई है. बताया जा रहा है कि हर 48 घंटे में पी चिदंबरम का मेडिकल चेकअप भी कराया जाएगा. बता दें कि INX मीडिया केस में पूछताछ के लिए सीबीआई ने कोर्ट में पी चिदंबरम की रिमांड मांगी थी. बता दें कि अगले पांच दिनों तक सीबीआई लगातार उनके पूछताछ करेगी.  

जज अजय कुमार ने कहा- आरोपी के खिलाफ लगे आरोप बेहद गम्भीर हैं. इसने कोई दो राय नहीं हो सकती है कि इस केस में गहन जांच की जरूरत है. साल 2007-08 और साल 2008-09 में आरोपी को पेमेंट किए जाने के आरोप बहुत विशिष्ट और श्रेणीबद्ध है. मनी  ट्रेल का पता लगाने की जरूरत है.

First Published: Aug 22, 2019 06:42:56 PM
Post Comment (+)

Live Scorecard

न्यूज़ फीचर

वीडियो