वैश्‍विक परिवेश का भारत किस प्रकार से फायदा उठा सकता है, इस पर रहेगा फोकस: पीएम नरेंद्र मोदी

News State Bureau  |   Updated On : January 31, 2020 10:53:16 AM
वैश्‍विक परिवेश का भारत किस प्रकार से फायदा उठा सकता है, इस पर रहेगा फोकस: पीएम नरेंद्र मोदी

पीएम मोदी (Photo Credit : फोटो- ani )

नई दिल्ली:  

संसद का बजट सत्र आज यानी 31 जनवरी से शुरू होने वाला है. संसद का बजट सत्र शुरू होने से पहले पीएम नरेंद्र मोदी ने प्रेस ब्रीफिंग में कहा, आदरणीय राष्‍ट्रपति का उद्बोधन होगा और कल नववर्ष का बजट पेश किया जाएगा. वैश्‍विक परिवेश का भारत किस प्रकार से परिस्‍थितियों का फायदा उठा सकता है, इस पर हमें फोकस करना चाहिए. हमारी सरकार की पहचान दलित, पीड़ित, शोषित, महिला आदि को सशक्‍त करने की रही है. मैं चाहता हूं कि दोनों सदनों में आर्थिक विषयों पर, लोगों के सशक्‍तिकरण पर व्‍यापक और सार्थक चर्चा हो. दिनोंदिन हमारी चर्चा का स्‍तर समृद्ध होता चले, यही कामना है.

यह भी पढ़ें : फर्रुखाबाद : सिरफिरे सुभाष बाथम की पत्‍नी को लोगों ने पीट-पीटकर मार डाला

संसद का बजट सत्र आज शुक्रवार से शुरू हो रहा है. दूसरे दिन यानी एक फरवरी को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आम बजट पेश करेंगी. बजट सत्र का पहला चरण 31 जनवरी से 11 फरवरी तक और दूसरा चरण 2 मार्च से 3 अप्रैल तक चलेगा. इस सत्र में मोदी सरकार करीब 45 महत्वपूर्ण विधेयकों को पेश करने की तैयारी में है. बजट सत्र की शुरुआत राष्ट्रपति के अभिभाषण से होगी. इस दौरान राष्‍ट्रपति संसद के दोनों सदनों के संयुक्‍त अधिवेशन को संबोधित करेंगे.

यह भी पढ़ें : जम्मू-कश्मीर: आतंकी हमले में तीन आतंकवादी ढेर, नगरोटा इलाके में जारी मुठभेड़

बता दें, राष्‍ट्रपति के अभिभाषण में मोदी सरकार के आगे के कामकाज और नीतियों का खाका देखने को मिलेगा. संविधान के अनुच्छेद 87 में राष्ट्रपति को संसद के दोनों सदनों के संयुक्‍त अधिवेशन को संबोधित करने की शक्ति दी गई है. हर साल आम बजट पेश होने से पहले राष्‍ट्रपति संसद के संयुक्‍त अधिवेशन को संबोधित करते हैं.

First Published: Jan 31, 2020 10:42:57 AM

न्यूज़ फीचर

वीडियो