BREAKING NEWS
  • IND vs SA, 2nd T20: विराट कोहली ने जड़ा अर्धशतक, टीम इंडिया ने दक्षिण अफ्रीका को 7 विकेट से हराया- Read More »

हिस्सेदारी तो 1947 में दी जा चुकी है... मुस्लिमों को किराएदार कहने पर ओवैसी पर बीजेपी नेता का पलटवार

News State Bureau  |   Updated On : June 02, 2019 12:07:36 PM
एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी.

एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी.

ख़ास बातें

  •  बीजेपी नेता ने कहा, हिस्सेदारी की भाषा बोलेंगे तो हिस्सेदारी 1947 में दी जा चुकी.
  •  सोच-समझ कर बोलने की दी सलाह. कहा-किसी ने उन्हें किराएदार नहीं कहा.
  •  गृह राज्यमंत्री के बयान पर वार-पलटवार की राजनीति हुई तेज.

नई दिल्ली.:  

गृह राज्यमंत्री के हैदराबाद (Hyderabad) को आतंकियों की पनाहगाह (Safe Heaven) बताए जाने संबंधी बयान पर शुरू हुई रार अभी खत्म नहीं हुई है. उस पर एआईएमआईएम के चीफ असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) की प्रतिक्रिया पर बीजेपी का पलटवार जारी है. शनिवार को केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की तीखी प्रतिक्रिया के बाद रविवार को बीजेपी नेता माधव भंडारी (Madhav Bhandari) ने 1947 के भारत विभाजन की याद दिलाते हुए ओवैसी पर कड़ा हमला बोला है. गौरतलब है कि एक बयान में ओवैसी ने कहा था कि मुसलमान देश के हिस्‍सेदार हैं, किराएदार नहीं.

यह भी पढ़ेंः सोशल मीडिया पर करें सभ्य व्यवहार, वर्ना नहीं मिलेगा अमेरिका का वीजा

हिस्सेदारी 1947 में दी जा चुकी है
रविवार को बीजेपी नेता माधव भंडारी ने असदुद्दीन ओवैसी पर हमला बोला. भंडारी ने कहा, 'उन्हें (ओवैसी) सोच-समझकर बोलना चाहिए. उन्हें (मुस्लिम) किसी ने किराएदार नहीं कहा, लेकिन हिस्सेदारी की भाषा बोलेंगे तो हिस्सेदारी 1947 (India Partition) में दी जा चुकी है. फिर तो मामला खत्म हो गया.' गौरतलब है कि शनिवार को ओवैसी ने अपने बयान में कहा था, 'देश के मुसलमानों (Indian Muslims) को बीजेपी के सत्ता में आने से डरना नहीं चाहिए. मुसलमान देश के हिस्‍सेदार हैं किराएदार नहीं. उन्‍हें धार्मिक स्वतंत्रता का अधिकार संविधान से मिला है. अगर मोदी मंदिर में जा सकते हैं तो मुसलमान भी मस्जिद जा सकता है.'

यह भी पढ़ेंः मायावती की बड़ी कार्रवाई, दो प्रदेश अध्यक्षों को बदला और कई राज्य प्रभारी भी हटाए

नकवी भी जता चुके हैं ओवैसी पर नाराजगी
हालांकि ओवैसी के बयान पर शनिवार को ही केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की थी. ओवैसी पर पलटवार करते हुए नकवी ने कहा था, 'कुछ लोग अपनी रोजी-रोटी के लिए इस तरह के बयान देते हैं. ये लोग धर्म, जाति (Caste Religion) और क्षेत्र के नाम पर बेतुकी बातें करते हैं. यह किसी को भी फायदा नहीं पहुंचाता. मोदीजी (PM Narendra Modi) के पास 130 करोड़ लोगों का भरोसा है और सभी जानते हैं कि वे मोदीजी के नेतृत्व में पूरी तरह सुरक्षित हैं.'

यह भी पढ़ेंः अजीत डोभाल, नृपेंद्र मिश्रा का क्या होगा? पीएम मोदी करने जा रहे टीम मोदी में फेरबदल

ओवैसी ने पीएम पर भी साधा था निशाना
गौरतलब है कि गृह राज्यमंत्री के बयान पर पलटवार करते हुए असदुद्दीन ओवैसी ने पीएन नरेंद्र मोदी को भी लपेट लिया था. उन्होंने कहा था, 'अगर कोई यह समझ रहा है कि हिंदुस्‍तान के वजीर-ए-आजम 300 सीटें जीत कर हिंदुस्‍तान पर मनमानी करेंगे तो यह नहीं हो सकेगा. वजीर-ए-आजम (Prime Minister Modi) से हम कहना चाहते हैं, संविधान (Indian Constitution) का हवाला देकर कि ओवैसी आपसे लड़ेगा, मजलूमों के इंसाफ के लिए लड़ेगा. हिंदुस्तान को आबाद रखना है, हम हिंदुस्‍तान को आबाद रखेंगे. हम यहां पर बराबर के शहरी हैं, किराएदार नहीं हैं हिस्‍सेदार रहेंगे.'

First Published: Jun 02, 2019 12:01:38 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो