पाकिस्तान और बांग्लादेश के हैं शाहीन बाग में बैठे ज्यादातर लोग, BJP का दावा

News State Bureau  |   Updated On : January 28, 2020 08:05:24 AM
शाहीन बाग का प्रदर्शन

शाहीन बाग का प्रदर्शन (Photo Credit : फाइल फोटो )

नई दिल्ली:  

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ शाहीन बाग में चल रहा विरोध प्रदर्शन देशभर में चर्चा का विषय बना हुआ है. एक तरफ जहां सरकार लगातार इसपर निशाना साध रही है तो वहीं कई विपक्षी पार्टियां इसका समर्थन कर रही हैं. कुल मिलाकर इस पूरे मसले पर राजनीति इस वक्त काफी तेज है. इस बीच एक बार फिर बीजेपी के एक नेता ने शाहीन बाग के प्रदर्शन की आलोचना की है. बीजेपी नेता राहुल सिन्हा ने सोमवार को कहा कि, 'शाहीन बाग में बैठे ज्यादातर लोग वो हैं जो या तो बांग्लादेश से आए हैं या पाकिस्तान से.'

बता दें, राहुल सिन्हा से पहले केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने भी शाहीन बाग में जारी प्रदर्शन की आलोचना की थी. उन्होंने कहा, शाहीन बाग अब एक इलाका भर नहीं है बल्कि ये एक विचार बन गया है जहां भारते के झंडे का इस्तेमाल उन लोगों को छिपाने के लिए किया जा रहा है जो देश को बांटना चाहते हैं. रविशंकर प्रसाद ने कहा, इसे टुकड़े-टुकड़े गैंग का समर्थन मिल रहा है. इसके बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का बयान भी सामने आया था जिसमें उन्होंने कहा था कि 'शाहीन बाग में सड़क बंद होने की वजह से लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. बीजेपी गंदी राजनीति कर रही है वो वो नहीं चाहती है कि यह रास्ता खुले.' केजरीवाल ने आगे कहा, 'बीजेपी नेताओं को तुरंत शाहीन बाग का दौरा करना चाहिए और लोगों से बात करनी चाहीए. इसके बाद जल्द सड़क को फिर से खोल देना चाहिए.'

यह भी पढ़ें: झारखंड: CAA समर्थकों पर पथराव के बाद हिंसा मामले में 16 गिरफ्तार, एक घायल की मौत

अरविंद केजरीवाल का ये बयान अमित के उस बयान के बाद आया था जिसमें उन्होंने कहा कि अगर दिल्ली को सजाना है, संवारना है तो फिर तो बीजेपी को वोट दें और अगर ऐसा होगा तो शाहीन बाग पर साफ-साफ असर पड़ेगा. अमित शाह ने कांग्रेस और आम आदमी पर दिल्ली में दंगा करने, हिंसा फैलाने और लोगों को उकसाने का आरोप लगाया. अमित शाह का ये बयान 26 जनवरी को सामने आया था.

यह भी पढ़ें: राजनीतिक बहस का केंद्र बने अदनान सामी, ट्विटर पर कांग्रेस के साथ विवाद

अमित शाह ने कहा था कि दिल्ली की सरकार दिल्ली में दंगे और हिंसा करने वालों के साथ खड़ी है. लोगों को आगाह करते हुए उन्होंने कहा कि अगर आप सरकार फिर से दिल्ली में आई तो दिल्ली शांत नहीं रह पाएगी. उन्होंने लोगों से अपील की दिल्ली में शांति और शाहीन बाग के खात्मे के लिए बीजेपी को वोट दें.

First Published: Jan 28, 2020 08:03:35 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो