बिहार : नीतीश ने राज्य के सर्वांगीण विकास की प्रतिबद्घता दोहराई

आईएनएस  |   Updated On : August 15, 2019 03:01:03 PM
नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

नीतीश कुमार (फाइल फोटो) (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

बिहार में गुरुवार को स्वतंत्रता दिवस धूमधाम एवं हषरेल्लास के साथ मनाया जा रहा है.राज्य में मुख्य समारोह पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में आयोजित किया गया, जहां राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राष्ट्रीय तिरंगा फहराया. ध्वजारोहण के बाद राज्य के लोगों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने बिहार के सर्वांगीण विकास की प्रतिद्घता दोहराते हुए कहा कि राज्य में कानून का राज है और बिहार सर्वागीण विकास कर रहा है. इस दौरान उन्होंने सरकार के सात निश्चयों सहित कई विकास योजनाओं की चर्चा की तथा न्याय के साथ विकास पर बल देते हुए कहा कि बिहार विकास के पथ पर आगे बढ़ रहा है.

उन्होंने कहा, "हमारी सरकार बिहार के विकास के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेगी.भ्रष्टाचार और कानून के साथ कोई समझौता नहीं किया जाएगा.हमारी सरकार हर क्षेत्र में विकास का काम कर रही है.राज्य में सामाजिक सौहार्द का वातावरण है.हमारी लोगों से अपेक्षा है कि राज्य में इसी तरह शांति और भाईचारा बनी रहे." मुख्यमंत्री ने राज्यवासियों को रक्षाबंधन की भी शुभकामनाएं दी.

यह भी पढ़ें- Independence Day 2019: क्या है पीएम मोदी का न्यू इंडिया प्लान, जानें एक नजर में

नीतीश ने स्वास्थ्य के क्षेत्र में हो रहे विकास कार्यो की चर्चा करते हुए कहा कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में भी काफी काम हो रहा है.उन्होंने कहा कि पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल (पीएमसीएच) को अंतर्राष्ट्रीय स्तर का अस्पताल बनाने का लक्ष्य रखा है.पीएमसीएच में 5 हजार से भी ज्यादा बेड होंगे.

नीतीश ने कहा कि पहले जो लोग शराब के काम में लगे थे उनके लिए सतत जीविकोपार्जन के लिए 60 हजार रुपए मदद की जा रही है.उन्होंने कहा कि राज्य में शराबबंदी के बाद कई घरों की स्थिति सुधरी है.शराबबंदी का विरोध करने वाले लोग उन परिवारों की स्थिति को जाकर देखें.जिस परिवार के लोग शराब पीते थे उनकी जिंदगी में कितना सुधार आया है.

मुख्यमंत्री ने जलवायु परिवर्तन पर चिंता जताते हुए कहा कि सरकार 'जल-जीवन- हरियाली' अभियान चलाएगी.अगर जल और हरियाली है तभी जीवन संभव रहेगा. उन्होंने कहा, "बिहार के बंटवारे के बाद राज्य में हरियाली नौ प्रतिशत थी.अब यह बढ़कर 15 प्रतिशत हो गई है और इसे 17 प्रतिशत तक करने का लक्ष्य रखा गया है."

मुख्यमंत्री ने महात्मा गांधी को याद करते हुए कहा कि बापू ने कहा था कि धरती हमारे सभी जरूरत को पूरा करने में सक्षम है लेकिन किसी के लालच को पूरा नहीं किया जा सकता. धव्जारोहण के पूर्व मुख्यमंत्री ने परेड का निरीक्षण किया.स्पेशल टास्क फोर्स, बिहार सैन्य बल, होमगार्ड, एनसीसी और स्काउट एंड गाइड सहित 20 से अधिक टुकड़ियों में सजे धजे जवानों की परेड आकर्षण का केंद्र बनी रही.

इस मौके पर राज्य के कई मंत्री, वरिष्ठ अधिकारी सहित बड़ी संख्या में लोग उपस्थित रहे.गांधी मैदान में स्वतंत्रता दिवस के मौके पर विभिन्न सरकारी विभागों और संस्थाओं द्वारा झांकियां भी निकाली गई. इसके पहले मुख्यमंत्री ने पटना के कारगिल चौक पहुंचकर शहीदों को श्रद्घांजलि दी. इसके अलावा, राज्य के विभिन्न सरकारी और निजी संस्थानों व राजनतिक पार्टी के कार्यालयों में भी स्वतंत्रता दिवस के मौके पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया गया और समारोह के आयोजन किए गए हैं. स्वतंत्रता दिवस को लेकर राज्य में सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं.

First Published: Aug 15, 2019 03:01:03 PM
Post Comment (+)

Live Scorecard

न्यूज़ फीचर

वीडियो