BREAKING NEWS
  • दिल्ली में चल रहा था फर्जी पासपोर्ट सेवा केंद्र, 100 से ज्यादा लोगों से करोड़ों रुपए की ठगी - Read More »

अरुण जेटली के निधन पर देश के साथ विदेश से भी आ रहे शोक संदेश, जानें किसने क्या कहा

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : August 24, 2019 08:06:02 PM
पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली (फाइल फोटो)

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली (66) का शनिवार को एम्स में निधन हो गया. वे लंबे वक्त से बीमार चल रहे थे. उन्होंने अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान संस्थान (AIIMS) में दोपहर 12 बजकर 07 मिनट पर आखिरी सांस ली. अरुण जेटली को 9 अगस्त को सांस लेने में दिक्‍कत होने के कारण एम्स में भर्ती कराया गया था. वे काफी दिनों से कैंसर से पीड़ित थे. देशवासियों के साथ-साथ अन्य देशों ने भी अरुण जेटली के निधन पर श्रद्धांजलि अर्पित की.

भारत में मौजूद अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस और ऑस्ट्रेलिया के प्रतिनिधियों ने अरुण जेटली के निधन पर दुख जताया है. भार त में मौजूद भारत में अमेरिकी दूतावास ने अपने बयान में अरुण जेटली को जीएसटी लागू करने और ईज ऑफ डूइंग बिजनेस की दिशा में काम करने के लिए याद किया. उन्होंने कहा, अरुण जेटली अपनी लंबी और शानदार सेवा के लिए याद किए जाएंगे. उन्होंने बड़े खासतौर पर जीएसटी को लागू करवाना, ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के लिए प्रयास और भ्रष्टाचार को दूर करने के लिए प्रयास किए. जेटली ने भारत-अमेरिका के रिश्तों और आर्थिक संबंधों को सुधारने के लिए काम किया.

अमेरिकी राजदूत केन जस्टर ने ट्वीट कर पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली को श्रद्धांजलि दी है. उन्होंने कहा, अरुण जेटली के निधन की खबर पाकर हम बेहद दुखी हैं. वो एक महान स्टेट्समैन और भारत-अमेरिका संबंधों के बड़े समर्थक थे. उनकी आत्मा को शांति मिले.

ब्रिटिश हाई कमिशन ने भी बीजेपी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली के निधन पर दुख जताया है. उन्होंने कहा, पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन की खबर से हम दुखी हैं. इस मुश्किल वक्त में उनके परिवार, दोस्तों और समर्थकों के साथ हमारी संवेदनाएं हैं. वहीं, फ्रांस के राजदूत एलेक्जेंडर जीगलर ने भी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि दुख की इस घड़ी में फ्रांस भारत के साथ है.

ऑस्ट्रेलिया की हाई कमिश्नर हरिंदर सिद्धू ने अरुण जेटली को ऑस्ट्रेलिया का दोस्त बताते हुए कहा कि उनकी समझदारी और गर्मजोशी की कमी खलेगी. वहीं, भारत में चीन के राजदूत सुन वेइडोंग ने भी जेटली के परिजनों के साथ अपनी संवेदना व्यक्त की.

बता दें कि बतौर वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कई मौकों पर वर्ल्ड ट्रेड ऑर्गेनाइजेशन (WTO) में भारत का प्रतिनिधित्व किया और भारत की आवाज को मजबूती से दुनिया के सामने रखा. अरुण जेटली का अंतिम संस्कार रविवार को दिल्ली के निगमबोध घाट में किया जाएगा. इससे पहले बीजेपी मुख्यालय में सुबह अंतिम दर्शन के लिए उनका पार्थिव शरीर रखा जाएगा.

First Published: Aug 24, 2019 08:06:02 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो