34 हजार ब्रू शरणार्थियों को मिलेगी भारतीय नागरिकता, अमित शाह ने किया ऐलान

News State Bureau  |   Updated On : January 16, 2020 07:12:33 PM
गृहमंत्री अमित शाह

गृहमंत्री अमित शाह (Photo Credit : ट्वीटर )

नई दिल्ली:  

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और ब्रू शरणार्थियों के प्रतिनिधियों ने त्रिपुरा के सीएम बिप्लब कुमार देब और मिजोरम के मुख्यमंत्री गोरमथांगा की मौजूदगी में मिजोरम से ब्रू शरणार्थियों के संकट को समाप्त करने और त्रिपुरा में उनके निपटान के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए. गृहमंत्री अमित शाह ने कहा, इस समझौते के मुताबिक ब्रू शरणार्थियों को त्रिपुरा में बसाया जाएगा. इस समझौते से तकरीबन 34 हजार ब्रू शरणार्थियों को फायदा होगा. शाह ने कहा कि लगभग 30 हजार से ज्यादा ब्रू शरणार्थियों को त्रिपुरा में बसाया जाएगा इसके लिए केंद्र सरकार 6 हजार करोड़ का पैकेज देगी.

वहीं मिजोरम के मुख्यमंत्री ज़ोरमथांगा ने गुरुवार को दिल्ली में हुई बैठक के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए बताया कि आज हमने ब्रू नेताओं, त्रिपुरा सरकार और मिज़ोरम सरकार के साथ एक महत्वपूर्ण समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं, त्रिपुरा, मिजोरम और केंद्र सरकार के साथ मिलकर लिए गए इस फैसले से पिछले 25 वर्षों से चले आ रहे ज्वलंत मुद्दे का स्थायी रूप से हल होगा.

यह भी पढ़ें-इस दिहाड़ी मजदूर को मिल गया 1 करोड़ रुपये का आयकर नोटिस, जानें फिर क्या हुआ

यह भी पढ़ें-निर्भया केसः 22 जनवरी को नहीं होगी दोषियों को फांसी, गृह मंत्रालय पहुंची दया याचिका

केंद्रीय गृहमंत्री ने इसके पहले नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में बिहार के वैशाली में जनसभा को संबोधित किया था यहां जनसभा को संबोधित करते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने विपक्ष पर जमकर हमला बोला. शाह ने कहा कि आजादी के बाद जो हिंदू, सिख, बौद्ध और जैन पाकिस्तान और बांग्लादेश में थे, वह अब तीन प्रतिशत भी नहीं बचे हैं. जबकि भारत में रुके मुस्लिम लगातार बढ़ते गए ऐसा कैसे हुआ. उन्होंने राहुल गांधी और लालू यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि, राहुल बाबा और लालू यादव बताएं वहां पर हिन्दू कैसे कम हुए.

यह भी पढ़ें-EXCLUSIVE : CM योगी ने जिस नाले के सामने ली थी सेल्फी, वहां फिर बह रही गंदगी, देखें Photo

अमित शाह इतने पर ही चुप नहीं हुए उन्होंने सीएए के विरोध कर रहे विपक्ष तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस- और टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी ने देश में सुनियोजित दंगे करवाए हैं. उन्होंने बिहार के अल्पसंख्यकों से अपील की करते हुए बताया कि मैं बिहार के मुस्लिमों को बताने आया हूं कि सीएए से किसी की नागरिकता नहीं जाएगी. शाह ने आगे कहा कि कांग्रेस पार्टी ने धर्म के आधार पर देश का विभाजन कराकर गलत किया उन्होंने कहा कि पाकिस्तान और बांग्लादेश में हिंदुओं के धर्म परिवर्तन कराए गए, उनकी हत्याएं कराई गईं, इसलिए वहां के हिन्दू शरणार्थी यहां आने को मजबूर हुए हैं.

First Published: Jan 16, 2020 06:26:07 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो