अनुच्छेद 370 हटने के बाद से बौखलाए पाकिस्तान ने सीमा पर 222 बार की नापाक हरकत

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : August 30, 2019 06:33:16 AM

(Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  सीमावर्ती इलाकों में पाक लगातार कर रहा गोलीबारी
  •  25 दिनों में 222 बार पाक ने तोड़ा सीज फायर
  •  2019 में अब तक 1,889 बार सीज फायर का उल्लंघन
  •  पाकिस्तानी आतंकी कश्मीर में फैलाना चाहते हैं अशांति 

नई दिल्‍ली:  

5 अगस्त को मोदी सरकार के जम्मू-कश्मीर में धारा 370 निष्प्रभावी बनाने के बाद पाकिस्तान 222 बार नापाक हरकत करने की कोशिश की अगस्त के महीने में पाकिस्तान ने भारतीय सीमारेखा पर कुल 271 बार सीज फायर का उल्लंघन किया. वहीं अगर जुलाई के महीने की बात की जाए तो पाकिस्तानी सेना ने इससे भी ज्यादा 296 बार सीज फायर का उल्लंघन किया था. वहीं अगर इस साल की बात की जाए तो पाकिस्तान 1889 बार सीजफायर उल्लंघन कर चुका है. 5 अगस्त के बाद बौखलाया हुआ पाकिस्तान हर दिन औसतन 10 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रहा है. वहीं खुफिया इनपुट के मुताबिक ये भी पता चला है कि भारतीय सेना ने इन हमलों के दौरान जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तानी सेना के कई संवेदनशील सैन्य ठिकाने तबाह कर दिए हैं. सीमा पर रोजाना भारत और पाकिस्तान के बीच चल रही गोलीबारी की वजह से सीमावर्ती इलाकों में रहने वाले लोग दहशत में जीवन जीने को मजबूर हैं.

पाकिस्तान भारतीय सीमापर लगातार सीजफायर करके सीमावर्ती इलाकों में घुसपैठ कराने की नापाक कोशिश कर रहा है. लेकिन भारतीय सेना ने अपनी जांबाज सैनिकों के दम पर हर बार उसके इस प्रयास को विफल कर दिया. पिछले दिनों भारतीय सेना को मिले खुफिया इनपुट के मुताबिक पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में अपने आतंकियों की घुसपैठ करवाकर वहां का माहौल बिगाड़ना चाहता है जिसके लिए वो पीओके में लगातार आतंकियों को पनाह दिए जा रहा है. पाकिस्तान पाक अधिकृत कश्मीर में आतंक का जखीरा खड़ा करने की तैयारी में है यहां से हर रोज भारतीय सीमा में घुसपैठ की कोशिश की जा रही है. सेना को मिली खुफिया जानकारी की मानें तो आतंकी जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ करके यहां के स्थानीय नेताओं को निशाना बनाने की कोशिश कर रहे हैं.

खुफिया सूत्रों की मानें तो पाकिस्तान का आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद भी अपने आतंकियों को बड़ी तादाद में भारतीय सीमा में घुसपैठ करवाने की फिराक में लगा हुआ है. इसके लिए जैश आतंकी सुरक्षाबलों को अपना निशाना बनाने की साजिश में लगे हुए हैं. एक खुफिया रिपोर्ट की बात करें तो बीते 19 अगस्त को पाकिस्तान के भवालपुर में जैश के आतंकियों की एक बैठक आयोजित की गई, जिसकी अध्यक्षता मसूद अजहर के भाई रऊफ असगर ने की. रऊफ जैश-ए-मोहम्मद के सैन्य बल का कमांडर है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक शांति भंग करने के लिए सीमावर्ती इलाकों में आतंकी हमला किया जा सकता है.

First Published: Aug 29, 2019 10:20:55 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो