गोवा विवि में अफगान छात्र की हत्या, एनएसयूआई ने जताई दूसरा JNU बनने की आशंका

News State  |   Updated On : January 21, 2020 12:59:03 PM
गोवा विवि में अफगान छात्र की हत्या, एनएसयूआई ने जताई दूसरा JNU बनने की आशंका

एनएसयूआई ने गोवा विवि में दूसरा जेएनयू दोहराने की आशंका जाहिर की. (Photo Credit : न्यूज स्टेट )

ख़ास बातें

  •  गोवा विश्वविद्यालय में एक अफगान छात्र की चाकू घोंपकर हत्या.
  •  एनएसयूआई ने जेएनयू हिंसा के दोहराने का डर जाहिर किया.
  •  राज्य के सभी कॉलेजों में पुलिस सुरक्षा बढ़ाए जाने की मांग.

पणजी:  

गोवा विश्वविद्यालय में एक अफगान छात्र की चाकू घोंपकर हत्या किए जाने के बाद अखिल भारतीय छात्र संगठन (एनएसयूआई) ने जेएनयू हिंसा के दोहराने का डर जाहिर करते हुए परिसर में सुरक्षा बढ़ाने की मांग की है. घटना विश्वविद्यालय परिसर के पास डोना पॉला इलाके में सोमवार दोपहर हुई और इस संबंध में एक व्यक्ति सतीश नीलकंठे को गिरफ्तार किया गया है. एम कॉम के एक किशोर अफगान छात्र मतीउल्ला अरी पर परिसर में चार लोगों ने चाकू से हमला कर दिया था. पुलिस ने इस संबंध में सोमवार को एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया था. शेष तीन हमलावर फरार हैं.

यह भी पढ़ेंः अयोध्‍या केस में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर पीस पार्टी ने दायर की क्‍यूरेटिव पिटीशन

एनएसयूआई ने जताई जामिया बनने की आशंका
इस बीच नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (एनएसयूआई) के गोवा प्रमुख अहराज मुल्ला ने राज्यपाल सत्य पाल मलिक को पत्र लिख कर गोवा विश्वविद्यालय में 'जेएनयू जैसी स्थिति' उत्पन्न होने का डर जाहिर किया है. मुल्ला ने कहा, 'यह (पत्र) गोवा में हाल ही में अफगानिस्तान के छात्र पर हुए हमले की जानकारी आपको देने के लिए है. राज्य में कानून एवं व्यवस्था बिगड़ गई है और छात्रों को गोवा में जेएनयू जैसी स्थिति बन जाने का भय है.' कुछ सप्ताह पहले दिल्ली स्थित जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में छात्रों के बीच हिंसा हो गई थी.

यह भी पढ़ेंः प्रधानमंत्री मोदी और नेपाल के पीएम ने किया इंटीग्रेटेड चेक पोस्ट का उद्घाटन, कहा- सहयोग से और मजबूत होंगे संबंध

पुलिस व्यवस्था चौकस करने की मांग
गोवा विवि में जेएनयू या जामिया मिलिया इस्लामिया जैसी स्थिति से बचने के लिए राज्य के सभी कॉलेजों में पुलिस सुरक्षा बढ़ाए जाने की मांग करते हुए मुल्ला ने कहा, 'सरकार का काम राज्य और यहां पढ़ाई करने आने वाले छात्रों की रक्षा करना है, लेकिन यहां छात्र इकाई में डर बैठ गया है' गोवा में अफगान छात्र पर हमले से यहां पढ़ाई करने आने वाले विदेशी छात्रों की सुरक्षा पर सवाल पैदा हो गया है और इससे देश में कानून-व्यवस्था को लेकर दुनियाभर में बहुत गलत संदेश जाएगा.'

यह भी पढ़ेंः भारत की GDP गिरने से समूचे विश्‍व बाजार पर पड़ रहा असर, IMF की मुख्‍य अर्थशास्‍त्री गीता गोपीनाथ ने कहा

हमले का कारण अज्ञात
गोवा विश्वविद्यालय में विदेशी छात्रों के निदेशक राहुल त्रिपाठी ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है. अधिकारी ने कहा, 'हमले का कारण पता नहीं चल पाया है. हम आरोपी से पूछताछ कर रहे हैं.' उन्होंने बताया कि आरोपी के खिलाफ धारा 326 के तहत मामला दर्ज किया गया है. उन्होंने बताया कि मामले में आरोपी अन्य तीन छात्रों की तलाश जारी है.

First Published: Jan 21, 2020 12:59:03 PM

न्यूज़ फीचर

वीडियो