BREAKING NEWS
  • कमलेश तिवारी हत्याकांड में आतंकी कनेक्शन पर डीजीपी का बड़ा बयान, बोले- किसी भी संभावना से इंकार नहीं- Read More »
  • कमलेश तिवारी हत्याकांडः 24 घंटे की ट्रांजिट रिमांड पर लखनऊ लाए जाएंगे तीनों आरोपी- Read More »
  • IND vs SA: पहले से ही तय थी दक्षिण अफ्रीका की धुनाई, दोहरे शतक पर जानें क्या बोले रोहित शर्मा- Read More »

PoK के शिविरों में 500 आतंकी ले रहे हैं ट्रेनिंग, कश्मीर में घुसपैठ करने की फिराक में हैं बैठे

पीटीआई  |   Updated On : October 11, 2019 08:14:09 PM
कश्मीर में आतंकवादी घुसने की फिराक में

कश्मीर में आतंकवादी घुसने की फिराक में (Photo Credit : फाइल फोटो )

ख़ास बातें

  •  500 से अधिक आतंकवादी जम्मू-कश्मीर में घुसने की फिराक में बैठे हैं
  •  लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने बताया कश्मीर में 200-300 आतंकवादी हैं सक्रिय
  •  भारतीय सेना आतंकवादियों से निपटने में हैं सक्षम

नई दिल्ली:  

पाकिस्तान भारत में अस्थिरता पैदा करने के लिए लगातार घुसपैठ कराने की कोशिश कर रहा है. भारतीय सेना के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (PoK) में नियंत्रण रेखा के समीप विभिन्न प्रशिक्षण शिविरों में 500 से अधिक आतंकवादी जम्मू-कश्मीर में घुसने की फिराक में बैठे हैं. उन्होंने यह भी कहा कि 200 से 300 आतंकवादी पाकिस्तान के सहयोग से इस क्षेत्र को अशांत बनाये रखने के लिए जम्मू कश्मीर के अंदर सक्रिय हैं.

सेना की उत्तरी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने कहा, 'जहां तक जम्मू कश्मीर में सक्रिय आतंकवादियों की बात है तो बाहर से आये 200-300 आतंकवादी अपने काम में लगे हुए हैं.'रणबीर सिंह ने जम्मू कश्मीर में सक्रिय आतंकवादियों और देश में घुसपैठ करने के लिए पीओके में तैयार बैठे आतंकवादियों की संख्या के बारे में पूछे गये सवालों के जवाब में यह बात कही.

इसे भी पढ़ें:ट्रंप की 'अमेरिका फर्स्ट' नीति के साये तले मोदी-शी की बातचीत एशिया प्रशांत क्षेत्र में गढ़ेगी नई इबारत

उन्होंने कहा, 'इसी तरह करीब 500 पीओके में आतंकवादी प्रशिक्षण शिविरों में डेरा डाले हुए हैं और जम्मू कश्मीर में घुसपैठ करने के लिए तैयार बैठे हैं.'

उन्होंने कहा कि आतंकवादियों के प्रशिक्षण कार्यक्रम के हिसाब से यह संख्या घटती बढ़ती रहती है. सिंह ने कहा, 'उनकी संख्या भले जो भी हो, हम उन्हें रोकने और उनका सफाया करने में सक्षम हैं ताकि इस क्षेत्र में शांति एवं सामान्य स्थिति बनी रहे.'

सैन्य कमांडर ने कहा कि जम्मू कश्मीर में शांति एवं सामान्य स्थिति सुनिश्चित करना सेना का सदैव प्रयास रहा है. उन्होंने कहा, 'लेकिन पाकिस्तान यहां शांति बिगाड़ने के लिए कुचेष्टा करता रहता है. आज भी पाकिस्तान के अंदर आतंकवादी ढांचा चल रहा है. उनमें आतंकवादियों के प्रशिक्षण शिविर और देश में घुसपैठ कराने के लिए उनके लांचिंग पैड शामिल हैं.'

जब सिंह से पाकिस्तान द्वारा पंजाब में ड्रोन के माध्यम से हथियार गिराने के मुद्दे पर सवाल किया गया तब उन्होंने कहा कि आतंकवादियों को हथियार से लैस रखने के लिए ड्रोनों की तैनाती पाकिस्तान का नया तरीका है.

और पढ़ें:आर्थिक तंगी की मार झेल रहे पीएम इमरान खान के लिए बुरी खबर, अब विदेशों से सामान खरीदना हुआ मुश्किल

उन्होंने कहा, 'लेकिन मैं आपको सुनिश्चित करना चाहता हूं कि भारतीय सेना पाकिस्तान के किसी भी नापाक मंसूबे को विफल करने में सक्षम और कृतसंकल्प है. उनके मंसूबों को सफल नहीं होने दिया जाएगा.'

बता दें कि इस साल 10 अक्टूबर तक पाकिस्तान ने 2317 बार सीमा पर सीजफायर का उल्लंघन किया है. वही भारतीय सेना ने घुसपैठ की फिराक में 147 आंतकवादियों को ढेर किया है.

First Published: Oct 11, 2019 08:14:09 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो