कर्नाटक में गठबंधन की सरकार 'पनौती', 4 बार एलायंस गवर्नमेंट बनी और 2 साल भी नहीं चली

NITU KUMARI  |   Updated On : July 23, 2019 10:48:50 PM
विधानसभा से बाहर निकलते हुए कुमारस्वामी

विधानसभा से बाहर निकलते हुए कुमारस्वामी (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

कर्नाटक के नाटक पर पर्दा गिर चुका है. 14 महीने में कुमारस्वामी की सरकार गिर गई. अब ये कर्नाटक का 'अभिशाप' कहे या फिर कुछ और इतिहास गवाह है कि चुनाव के बाद बनी कोई भी गठबंधन की सरकार नहीं चल पाई है. दो साल के भीतर गठबंधन की सरकार गिर गई. ऐसा अबतक चार बार हो चुका है. जब गठबंधन की सरकार सत्ता में आई और कुछ महीने बाद चलती बनीं.

साल 1983 में बनी थी पहली गठबंधन की सरकार

सबसे पहले 1983 में गठबंधन की सरकार बनी. इस सरकार में बीजेपी, लेफ्ट, जनता पार्टी और कुछ क्षेत्रीय दल शामिल थे. लेकिन यह सरकार दो साल से पहले ही गिर गई. 10 जनवरी 1983 से 29 दिसंबर 1984 तक यह सरकार चली. यानी 1 साल 354 दिन ही गठबंधन की सरकार चल पाई.

इसे भी पढ़ें:उधर संकट में एचडी कुमारस्वामी, इधर सिद्धारमैया कर रहे ये काम; जानें इसके राजनीतिक मायने

2004 में कांग्रेस और जेडीएस ने मिलकर बनाई थी सरकार

दूसरी बार गठबंधन की सरकार साल 2004 में बनी. इस सरकार की कमान कांग्रेस और जेडीएस के पास थी. 28 मई 2004 – 2 फरवरी 2006 तक यानी 1 साल 250 दिन यह सरकार चली.

2004 में फिर बनी गठबंधन की सरकार
इसके बाद 3 फरवरी 2006 को बीजेपी ने जेडीएस के साथ मिलकर सरकार बनाई. यह सरकार 8 अक्टूबर 2007 तक चली. 1 साल 253 दिन ही बीजेपी इस सरकार को चला पाई.

इसके बाद बीजेपी अकेली सरकार बनाई. जिसके सीएम येदियुरप्पा बने. लेकिन यह सरकार महज सात दिन में गिर गई. बीजेपी सरकार 12 नवंबर 2007 से 19 नवंबर 2007 तक चली.

और भी पढ़ें:कर्नाटक का 'नाटक' खत्म, एचडी कुमारस्वामी की सरकार गिरी; जानें किस पार्टी को मिले कितने वोट

साल 2018 में बनी गठबंधन की सरकार भी नहीं चली

इसके बाद मई 2018 में कांग्रेस की मदद से जेडीएस के एचडी कुमारस्वामी ने सरकार बनाई. लेकिन यह भी सरकार गिर गई. 23 जुलाई 2019 को यह सरकार महज 14 महीने में गिर गई.

First Published: Jul 23, 2019 10:48:50 PM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो