किम पूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण पर सहमत, ट्रंप बोले- आज हमने लिखा नया इतिहास

संयुक्त बयान में, ट्रंप ने उत्तर कोरिया को सुरक्षा गारंटी मुहैया कराने की प्रतिबद्धता जताई, वहीं किम ने कोरियाई प्रायद्वीप में पूर्ण निरस्त्रीकरण करने की अपनी मजबूत और दृढ़ प्रतिबद्धता जताई।

  |   Updated On : June 12, 2018 09:05 PM
डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग उन (आईएएनएस)

डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग उन (आईएएनएस)

नई दिल्ली:  

उत्तर कोरिया के शीर्ष नेता किम जोंग-उन ने मंगलवार को सुरक्षा गारंटी के बदले कोरियाई प्रायद्वीप में पूर्ण निरस्त्रीकरण पर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से सहमति जताई।

किम और ट्रंप ने ऐतिहासिक बैठक के बाद एक संयुक्त बयान पर हस्ताक्षर किए। यह अमेरिकी राष्ट्रपति और उत्तर कोरिया के नेता के बीच हुई पहली बैठक थी। यह सिंगापुर में रिसार्ट द्वीप सेंटोसा के कैपेला होटल में हुई।

संयुक्त बयान में, ट्रंप ने उत्तर कोरिया को सुरक्षा गारंटी मुहैया कराने की प्रतिबद्धता जताई, वहीं किम ने कोरियाई प्रायद्वीप में पूर्ण निरस्त्रीकरण करने की अपनी मजबूत और दृढ़ प्रतिबद्धता जताई।

बैठक के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, 'आज की बैठक के बाद हम इतिहास का नया अध्याय लिखने के लिए तैयार हैं। हमारा अतीत भविष्य को परिभाषित नहीं करेगा।' 

उन्होंने कहा, 'किम जोंग के पास अपने देश के लिए बेहतर भविष्य बनाने का मौक़ा है। युद्ध कोई भी कर सकता है लेकिन शांति की पहल केवल साहसी लोग ही कर सकते हैं। आज का दिन विश्व इतिहास के दृष्टिकोण से काफी महत्वपूर्ण है।'

ट्रंप ने कहा, 'किम ने मुझसे कहा इससे पहले कभी भी इस स्तर पर बातचीत के लिए प्रयास नहीं किया गया क्योंकि उन्हें इससे पहले के राष्ट्रपति पर इतना ज़्यादा भरोसा ही नहीं था। वो इस दिशा में मुझसे भी ज़्यादा बढ़ने के इच्छुक हैं।'

ट्रंप ने किम जोंग पर सकारात्मक दिशा में आगे बढ़ने की उम्मीद जताते हुए कहा, 'हमने आज कई मुद्दों को लेकर एग्रीमेंट पर दस्तख़त किए हैं। मुझे आशा है कि किम जैसे ही अपने देश पहुंचेगे जल्द ही सभी मुद्दों को लेकर काम शुरू कर देंगे।'

और पढ़ें- ट्रंप, किम की मुलाकात द्विपक्षीय संबंधों के नए युग की शुरुआत

बैठक शुरू होने से पहले अमेरिका और उत्तर कोरियाई ध्वजों के सामने दोनों नेता एक दूसरे की तरफ आगे बढ़े और दृढ़ता से एक-दूसरे का हाथ थामा।

दोनों नेताओं ने करीब 12 सेकंड तक हाथ मिलाया। इस दौरान उन्होंने एक-दूसरे से कुछ शब्द कहे और उसके बाद होटल के पुस्तकालय के गलियारे में चले गए। 
महीनों की लंबी कूटनीतिक खींचतान और बातचीत के बाद दोनों नेताओं के बीच यह पहली मुलाकात है। 

ट्रंप और किम जोंग उन ने मंगलवार को ऐतिहासिक बैठक के बाद संयुक्त बयान पर हस्ताक्षर किए।

द स्ट्रेट्स टाइम्स ने ट्रंप के हवाले से कहा, 'हम बहुत ही महत्वपूर्ण दस्तावेज पर हस्ताक्षर कर रहे हैं, यह समग्र दस्तावेज है और हमने साथ में बेहतरीन समय बिताया। एक बेहतरीन संबंध। संवाददाता सम्मेलन में जल्द ही इस चर्चा होगी।'

ट्रंप ने कहा, 'हमने विशेष बॉन्ड विकसित किया है। यह बैठक किसी के भी अनुमान से बहुत बेहतर रही।'

इसके जवाब में किम जोंग ने कहा, 'दुनिया एक बड़ा बदलाव देगी।'

किम जोंग और ट्रंप यह ऐतिहासिक बैठक करने वाले अपने देशों के पहले नेता बन गए हैं। दोनों नेताओं ने सेंटोसा द्वीप के कैपेला होटल में मुलाकात की।

और पढ़ें- ...जब किम जोंग रात को निकल पड़े सिंगापुर की सैर पर

First Published: Tuesday, June 12, 2018 03:02 PM

RELATED TAG: Donald Trump, Kim Jong, North Korea, Us,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो