मोदी के मंत्री अठावले ने जस्टिस गोयल को NGT अध्यक्ष पद से हटाने की मांग की

केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास अठावले ने सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज जस्टिस एके गोयल को एनजीटी का अध्यक्ष बनाए जाने का विरोध किया है।

  |   Updated On : July 28, 2018 09:07 PM
मंत्री रामदास अठावले और जस्टिस एके गोयल (फाइल फोटो)

मंत्री रामदास अठावले और जस्टिस एके गोयल (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास अठावले ने सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज जस्टिस एके गोयल को एनजीटी का अध्यक्ष बनाए जाने का विरोध किया है। उनका कहना है कि गोयल ने एससी/एसटी एक्ट को लेकर गलत फैसला दिया।

अठावले ने कहा, 'जस्टिस गोयल को एनजीटी का अध्यक्ष बनाया जाना सही नहीं है। उन्होंने एससी/एसटी एक्ट को लेकर गलत फैसला दिया है। मैं एनडीए का हिस्सा हूं और मांग करता हूं कि गोयल को अध्यक्ष पोस्ट से हटाया जाए। उन्होंने दलितों की भावनाओं आहत किया है।'

और पढ़ें : भारत में चीफ जस्टिस को बदलने की प्रक्रिया में कई नीतिगत समस्या: जस्टिस रंजन गोगोई

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज जस्टिस गोयल को 6 जुलाई को अगले पांच सालों के लिए एनजीटी का अध्यक्ष नियुक्त किया गया था।

गौरतलब है कि 20 मार्च को सुप्रीम कोर्ट के पेंच की अध्यक्षता करते हुए जस्टिस गोयल ने एससी/एसटी एक्ट के तहत दायर केस में तुरंत आरोपी की गिरफ्तारी से रोक लगा दिया था। जांच के बाद कोई भी कदम उठाने की बात कही गई थी।

इस फैसले का कई पार्टियों के नेताओं और दलित संगठनों ने विरोध किया था। दलितों ने इसके विरोध में भारी विरोध प्रदर्शन किया था। जिसमें 11 लोगों की मौत हो गई थी।

और पढ़ें : राफेल करार : राहुल ने कहा, अगले 50 सालों तक टैक्सपेयर्स को चुकाने होंगे 1 लाख करोड़

First Published: Saturday, July 28, 2018 08:15 PM

RELATED TAG: Ramdas Athawale, Justic Ak Goel, St-sc Act, Sc-st Act, Pm Modi, Supreme Court,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो