बढ़ती बेरोजगारी पर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी चिंतित, कहा- तुरंत कदम उठाए सरकार

राष्ट्रपति के रुप में प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल अब बस कुछ ही दिन बचा है। ऐसे में जाते-जाते राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने बढ़ती बेरोजगारी पर चिंता व्यक्त की है।

  |   Updated On : June 08, 2017 01:41 PM
प्रणब मुखर्जी, राष्ट्रपति (फाइल फोटो)

प्रणब मुखर्जी, राष्ट्रपति (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

राष्ट्रपति के रुप में प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल अब बस कुछ ही दिन बचा है। ऐसे में जाते-जाते राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने बढ़ती बेरोजगारी पर चिंता व्यक्त की है। 

राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने देश में तेजी से बढ़ती बेरोजगारी पर चिंता व्‍यक्‍त करते हुए कहा कि हर साल रोजगार बाजार में लाखों लोग आ रहे हैं, लेकिन उस अनुपात में रोजगार के मौके उपलब्ध नहीं हो पा रहे हैं। यह देश के जनसांख्यिकीय लाभांश का सही लाभ उठाने के रास्ते में बड़ी बाधा साबित हो रही है।

इकॉनोमिक टाइम्‍स की खबर के मुताबिक, ऑल इंडिया मैनेजमेंट एसोसिएशन के डायमंड जुबली साल पर विशेष कार्यक्रम में राष्ट्रपति ने यह बात कही। उन्होंने कहा कि देश में कारोबार के लिए पूरा प्रशिक्षण देने वाली प्रबंधन शिक्षा की तुरंत आवश्‍यकता है।

रिजर्व बैंक गर्वनर उर्जित पटेल का बयान, कहा- जीडीपी में सुस्ती को नोटबंदी से न जोड़ें

प्रणब मुखर्जी का कहना था, 'हर साल लगभग 10 मिलियन (एक करोड़) लोग रोजगार बाजार में आते हैं। लेकिन इन अनुपात में रोजगार की व्‍यवस्‍था नहीं हो पा रही है। इस समस्‍या के हल के लिए हमें स्टार्टअप पर निर्भर करना पड़ेगा। हमें छोटे कारोबार शुरू करने चाहिए। यही बढ़ती बेरोजगारी पर लगाम लगा सकते हैं।'

Paytm के मालिक विजय शेखर शर्मा लुटियंस ज़ोन में लेंगे नया बंगला, कीमत 82 करोड़ रुपये

भारत की युवा शक्ति पर बोलते हुए उन्होंने कहा, 'हमारे पास सबसे अधिक युवा शक्ति और कार्यबल है। यह सुविधा थोड़े और अधिक समय के लिए रह सकती है। लेकिन यह फायदा हमें सही लाभांश नहीं देगा, अगर हम अपनी युवा शक्ति और कार्यबल को उत्पादक रोजगार में नहीं बदल पाए तो। हमें अपनी युवा शक्ति को रोजगार देना होगा, तभी अर्थव्‍यवस्‍था को इसका लाभ मिलेगा।'

देश में प्रबंधकीय और उद्यम कौशल को बढ़ाने पर जोर देते हुए मुखर्जी ने कहा कि देश को इसके युवाओं के लिए अधिक कारोबार शुरू करने की जरूरत है और नौकरी के स्थान पर उनके लिए अधिक रोजगार के अधिक मौके उपलब्ध करने की ज़रुरत है।

कारोबार से जुड़ी ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

First Published: Thursday, June 08, 2017 12:30 PM

RELATED TAG: President, Pranab Mukherjee, Employment,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो