अपनी ही कही बात को न मानने के चक्कर में ट्रोल हुए पीएम मोदी, सोशल मीडिया पर लोगों ने लिए मजे

जिसके बाद सोशल मीडिया पर ये सवाल पूछा जा रहा है कि क्‍या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी कही बात को गंभीरता से नहीं लेते?

News State Bureau  |   Updated On : October 02, 2017 10:44 AM
अपनी ही कही बात को न मानने के चक्कर में ट्रोल हुए पीएम मोदी

अपनी ही कही बात को न मानने के चक्कर में ट्रोल हुए पीएम मोदी

नई दिल्ली:  

रविवार को पीएम मोदी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के 72 वें जन्मदिन के मौके पर मिलने पहुंचे। इस मौके पर पीएम मोदी ने राष्ट्रपति को फूलों का गुलदस्ता देकर बधाई दी। जिसके बाद सोशल मीडिया पर ये सवाल पूछा जा रहा है कि क्‍या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी कही बात को गंभीरता से नहीं लेते?

दरअसल पीएम मोदी ने मन की बात के 33वें संस्करण में देशवासियों को संबोधित करते हुए भाजपा शासित राज्य सरकारों से फूलों की जगह किताबें भेंट किए जाने की अपील की थी। पीएम ने कहा था कि बेहतर होगा कि फूलों की बजाय गणमान्य अतिथियों का स्वागत पुस्तक देकर किया जाए।

यह भी पढ़ें: यशवंत सिन्हा ने कहा, हमने कश्मीर के लोगों को भावनात्मक रूप से खो दिया है

इससे पहले पीएमओ इंडिया ने ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुये कहा, 'मैं अपील करता हूं कि जब आप किसी से मिलें उसे गुलदस्ते की जगह किताब भेंट करें। ये छोटा सा कदम बड़ा बदलाव ला सकता है।'

हालांकि इसके ठीक दो दिन बाद ही प्रधानमंत्री खुद फूलों के गुलदस्ते के साथ रामनाथ कोविंद से मुलाकात करते नजर आए थे। तब भी उन्‍हें लोगों ने ट्विटर पर ट्रोल किया था।

रविवार को जैसे ही प्रधानमंत्री की मुलाकात की तस्वीर ट्विटर पर पोस्ट हुई सोशल मीडिया पर लोगों ने ट्रोल करना शुरू कर दिया।

यह भी पढ़ें: पीएम-राष्ट्रपति ने दी महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि, शास्त्री को किया नमन

First Published: Monday, October 02, 2017 10:40 AM

RELATED TAG: Narendra Modi, Trolled On Bouquet, Ramnath Kovind,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो