BREAKING NEWS
  • Himachal Pradesh Board Result 2019 : कल घोषित होगा हिमाचल प्रदेश का बोर्ड रिजल्ट, यहां करें चेक- Read More »
  • रोहित शेखर मर्डर केस : कहीं पत्नी अपूर्वा ने तो नहीं किया कत्ल, जानें क्या कहती है रिपोर्ट- Read More »
  • IPL12, RCB vs CSK, Live: 161 रन पर आरसीबी ढेर, चेन्नई को जीत के लिए 162 रनों की दरकार- Read More »

मोदी कैबिनेट ने लिए बड़े फैसले, सेना पर खर्च होंगे 11 हजार करोड़

News State Bureau  |   Updated On : May 16, 2018 06:56 PM
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फाइल)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फाइल)

New Delhi:  

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को कैबिनेट बैठक में केंद्र सरकार ने कई अहम फैसले लिए हैं। बैठक में सेना के लिए स्पेक्ट्रम मुहैया करने का प्लान भी शामिल किया गया जिसे मंजूरी दी गई है।

वहीं कैबिनेट कमेटी ऑन इकॉनोमिक अफेयर्स ने बैठक में गांवों तक सिंचाई व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए भी माइक्रो इरीगेशन प्लान को मंजूरी दी है।

इसके अलावा केंद्र ने झारखंड के लिए स्वास्थ्य सुविधाओं में बड़ी सौगात दी है। राज्य के देवघर में एम्स हॉस्पिटल बनाया जाएगा जिससे स्वास्थ्य सुविधाओं में राज्य को लाभ मिलेगा।

यहां पढ़िए कैबिनेट कमेटी ऑन इकॉनोमिक अफेयर्स महत्वपूर्ण फैसले

> सेना के लिए स्पेक्ट्रम मुहैया कराने के लिए केंद्र सरकार 11 हजार करोड़ रुपये खर्च करेगी।

और पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट ने कावेरी पर कर्नाटक की याचिका को किया खारिज, केंद्र को दिया ड्राफ्ट में बदलाव का निर्देश

> दिल्ली से मुंबई (डीएमआईसी) तक का रास्त बनाने में और तेजी लाई जाएगी साथ ही 15 सौ किलोमीटर के इस रास्ते में मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक हब बनाए जाएंगे। पहला फ्रेट विलेज जगह-जगह बनेंगे। पहला हरियाणा में बनाया जाएगा।

> पांच हजार करोड़ से ज्यादा खर्च केंद्र सरकार सिंचाई परियोजना पर करने जा रही है। इसमें माइक्रो इरीगेशन प्लान को शामिल किया गया है।

> झारखंड में एम्स की सौगात होगी जिसमें 750 बेड के साथ अन्य सभी आधुनिक स्वास्थ्य सुविधाएं होंगी।

> आंध्र प्रदेश में केंद्रीय विश्वविद्यालय की स्थापना की जाएगी। केंद्र इसमें 9.2 करोड़ रुपये खर्च करेगा।

मोदी कैबिनेट के बड़े फैसले

> भारत और ब्रुनेई के बीच सूचना के आदान-प्रदान की योजना को मंजूरी दी गई है। इसमें टैक्स एग्जामिनेशन भी शामिल है।

> बायो फ्यूल पर बनाई गई राष्ट्रीय स्तर की योजना को भी केंद्र ने मंजूरी दी है। बता दें कि भारत केवल 17% फ्यूल ही उत्पादन कर पाता है। बाकी की कमी को पूरा करने के लिए इस योजना पर केंद्र ने हामी भरी है।

> पब्लिक सेक्टर संस्थानों में अगर कोई विवाद की स्थिति बनती है तो वह संबंधित विभाग के सेकेट्री के पास जाएंगे। कोर्ट के पास नहीं जाएंगे ऐसे मामलों में यह फैसला लिया गया है।

> भोपाल के लिए नेशनल इस्टीट्यूट ऑफ मेंटल हेल्थ डेवलमेंट संस्थान भोपाल में खोला जाएगा।

और पढ़ें: पीएम के जम्मू-कश्मीर दौरे से पहले BSF ने की भारतीय सीमा में 5 आतंकवादियों के घुसने की पुष्टि

First Published: Wednesday, May 16, 2018 06:07 PM

RELATED TAG: Pm Narendra Modi, Narendra Modi, Central Govt, Cabinet Meeting, Cabinet Meeting Decisions,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटरऔरगूगल प्लस पर फॉलो करें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो