जनरल रावत ने कहा, आतंक पर लगाम लगाए पाक, तभी संभव होगी शांति वार्ता

भारत के सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा है कि पाकिस्तान के साथ शांति वार्ता तभी हो सकती है जब जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद को समर्थन देना बंद कर दे।

  |   Updated On : December 22, 2017 08:29 PM
भारत के सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत

भारत के सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत

नई दिल्ली:  

भारत के सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा है कि पाकिस्तान के साथ शांति वार्ता तभी हो सकती है जब जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद को समर्थन देना बंद कर दे।

पश्चिमी क्षेत्र में भारत-पाक सीमा के पास थार के मरुस्थल में दक्षिणी कमान के अभ्यास का निरीक्षण करने आए थे। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की हरकतों से लगता नहीं है कि वो शांति चाहता है।

उन्होंने कहा, 'पाकिस्तान को आतंकवाद का समर्थन करना बंद कर देना चाहिये... उसके बाद ही हम कह पाएंगे कि शांति वार्ता होनी चाहिये।

उन्होंने कहा, 'हम भी अच्छे संबंध चाहते हैं लेकिन जिस तरह की गतिविधियां (उनकी तरफ से) दिखाई दे रही हैं जम्मू-कश्मीर में आंतकवाद फैल रहा है, उससे लगता नहीं है कि वो शांति नहीं चाहता है।'

उन्होंने कहा कि सेना, अर्धसैनिक बल और जम्मू-कश्मीर की पुलिस आतंकियों के खिलाफ सफलतापूर्वक कार्रवाई कर रही है और उनके खिलाफ कार्रवाई जारी रहेगी। 

और पढ़ें: आदर्श घोटाले के नाम पर कांग्रेस की छवि की गई खराब: अशोक चव्हाण

इससे पहले विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा था कि भारत पाकिस्तान के साथ अच्छे संबंध चाहता है लेकिन पाक को आतंकी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई करनी होगी।

रवीश कुमार ने कहा था, 'पाकिस्तान को हमारी मूल चिंताओं को समझना होगा, जो कि आतंकवाद है। हमने बार-बार उनसे उनकी जमीन से अपनी गतिविधि चला रहे आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। ये एक ऐसी जिस पर पाकिस्तान को काम करना होगा अगर वो सच में दोस्ती को बढ़ाना चाहते हैं।'

पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने संबंधों को सुधारने की वकालत की थी। उन्होंने कहा था कि बारत पाक संबंधों के सुधारने की दिशा में उठाए जाने वाले कदमों का वो समर्थन करेंगे।

और पढ़ें: प्रद्युम्न मर्डर केस: आरोपी छात्र 3 जनवरी तक न्यायिक हिरासत में

First Published: Friday, December 22, 2017 04:27 PM

RELATED TAG: Indian Army Chief General Bipin Rawat, India, Pakistan,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो