BREAKING NEWS
  • LIVE: लोकसभा चुनाव के लिए बनी सहमति, बीजेपी 25 और शिवसेना 23 सीटों पर लड़ेगी चुनाव- Read More »
  • RBI ने सरकार को 28,000 करोड़ रुपये की सरप्लस राशि देने का फैसला किया- Read More »
  • मनी लांड्रिंग केस : रॉबर्ट वाड्रा को मंगलवार को फिर होना होगा हाजिर, ED करेगी पूछताछ- Read More »

पटना के आश्रय गृह की संवासिन की इलाज के दौरान मौत, 2 लापता

IANS  |   Updated On : September 01, 2018 12:06 PM
पटना के आश्रय गृह की संवासिन की इलाज के दौरान मौत (फाइल फोटो)

पटना के आश्रय गृह की संवासिन की इलाज के दौरान मौत (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

बिहार की राजधानी पटना के राजीव नगर के आश्रयगृह 'आसरा होम' में एक महिला (संवासिन) की मौत हो गई। वहीं, दो संवासिन लापता बताई जा रही हैं। आश्रय गृह में संवासिनों के गायब होने और मौत होने पर विपक्ष ने सरकार पर निशाना साधा है। पुलिस के अनुसार, राजीव नगर स्थित नेपाली नगर के आश्रयगृह के एक संवासिन को इलाज के लिए पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल (पीएमसीएच) में भर्ती कराया गया था, जहां शुक्रवार की रात उसकी मौत हो गई। 

पीएमसीएच के अधीक्षक राजीव रंजन प्रसाद ने शनिवार को बताया,'आश्रय गृह में रहने वाली अनामिका (27) को गुरुवार को गंभीर हालत में अस्पताल लाया गया था। उसे सांस लेने में दिक्कत हो रही थी, साथ ही उसके शरीर में खून की कमी थी। शुक्रवार रात उसकी मौत हो गई।'

इस बीच, यहां से दो संवासिन भी गायब हो गई हैं, जिसकी प्राथमिकी राजीव नगर थाना में दर्ज कराई गई है। राजीव नगर के थाना प्रभारी रोहन कुमार ने बताया कि आश्रयगृह संचालक द्वारा दो महिलाओं के लापता होने की शिकायत दर्ज कराई गई है। पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है। उन्होंने कहा कि आश्रयगृह और आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला जा रहा है। 

उल्लेखनीय है कि अगस्त महीने में इस आश्रयगृह में रहने वाली दो महिलाओं की मौत के बाद यह आश्रयगृह चर्चा में आया था। इन दो संवासिनों की मौत के बाद सरकार ने इस गृह को चलाने की जिम्मेवारी स्वयंसेवी संस्था अनुमाया ह्यूमन रिसोर्स फाउंडेशन से वापस ले ली थी। इस मामले में स्वयंसेवी संस्था की संचालिका मनीषा दयाल और सचिव चितरंजन को गिरफ्तार कर लिया गया था। 

इधर, आरजेडी नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव ने इस मामले को लेकर सरकार पर निशाना साधा है। 

तेजस्वी ने शनिवार को ट्वीट कर लिखा,'पटना के आसरा गृह कांड में पांच बड़े रंगीन अधिकारी संलिप्त है। नीतीश जी में नैतिक बल नहीं कि लड़कियों की इज्जत से खिलवाड़ करने वाले ऐसे नैतिक भ्रष्ट अधिकारियों को बर्खास्त कर सकें। अगर उन्होंने ऐसा किया तो ये अधिकारी इनका काला चिट्ठा खोल दुशासनी कुर्सी गंगा में फेंक देंगे। समझें।'

और पढ़ें- कृष्ण जन्माष्टमी : ये हैं पूजा के शुभ मुहुर्त, मिलेगा पूर्ण लाभ

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, 'पटना के कुख्यात आसरा आश्रय गृह से दो और लड़कियां गायब। एक की मौत। सुरक्षा बंदोबस्त के बाद कैसे गायब हुई? प्रतीत होता है बेलगाम पुलिस और समाज कल्याण विभाग ने लड़कियों के शोषण और तस्करी का कॉन्ट्रैक्ट लिया हुआ है। चंद दिन पूर्व इसी आसरा गृह की दो युवतियों की संदिग्ध मौत हुई थी।'

First Published: Saturday, September 01, 2018 11:55 AM

RELATED TAG: Pmch, Patna Shelter Home, Death, State News, State News In Hindi,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटरऔरगूगल प्लस पर फॉलो करें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो