नेवी को गडकरी की खरी-खरी, कहा- दक्षिण मुंबई में एक इंच भी नहीं मिलेगी ज़मीन

नितिन गडकरी ने नेवी को हिदायत देते हुए कहा है कि दक्षिण मुंबई में एक इंच ज़मीन भी सैन्य कर्मियों को नहीं दी जाएगी।

  |   Updated On : January 11, 2018 11:08 PM
केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (फाइल फोटो)

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (फाइल फोटो)

मुंबई:  

केंद्रीय सड़क परिवहन, राजमार्ग और जहाजरानी मंत्री नितिन गडकरी ने नेवी (नौसेना) को हिदायत देते हुए कहा है कि उन्हें दक्षिण मुंबई में एक इंच ज़मीन भी नहीं दी जाएगी।

उन्होंने हैरानी जताते हुए पूछा कि सभी नेवी अधिकारियों को दक्षिण मुंबई के पॉश इलाके में ही घर क्यों चाहिए?

नितिन गडकरी ने चेताते हुए कहा, 'दरअसल, नेवी की ज़रुरत सीमाओं पर हैं जहां से आंतकवादी घुसते हैं। क्यों सभी (सैन्यकर्मी) दक्षिण मुंबई में ही रहना चाहते हैं? वो (अधिकारी) मेरे पास आए एक प्लॉट लेने के लिए, मैं एक इंच ज़मीन भी नहीं दूंगा। कृप्या दोबारा मेरे पास न आएं।'

यह बात नितिन गडकरी ने एक सार्वजनिक कार्यक्रम के दौरान कही जहां पश्चिमी नेवल कमांड चीफ वायस एडमिरल गिरीश लूथरा भी मौजूद थे। 

अमेरिकी बिजनेस के लिए चीन का विकल्प बन सकता है भारत: अमेरिकी राजदूत

गडकरी का यह बयान उस वक्त आया है जब हाल ही में नेवी के सैन्य अधिकारियों के लिए दक्षिण मुंबई के मालबार हिल्स में एक फ्लोटिंग जेट, फ्लोटिंग होटल और सीप्लेन सेवाओं के निर्माण योजनाओं की अनुमति पर रोक लगाई गई थी।

गडकरी ने कहा, 'सभी दक्षिण मुंबई की कीमती जमीन पर क्वार्टर और फ्लैट बनाना चाहते हैं। हम आपका (नेवी) सम्मान करते हैं, लेकिन आपको पाकिस्तान सीमा पर जाना चाहिए और पेट्रोलिंग (निगरानी) करनी चाहिए।'

हालांकि गडकरी ने कहा कि कुछ महत्वपूर्ण और शीर्ष अधिकारी मुंबई में रह सकते हैं। उन्होंने बताया कि मुंबई की पूर्वी समुद्री इलाके की ज़मीन को स्थानीय नागरिकों के लिए मुंबई पोर्ट ट्रस्ट और महाराष्ट्र सरकार के सहयोग से विकसित किया जाएगा।

दक्षिण मुंबई नौसेना और पश्चिमी नौसेना कमान के मुख्यालयों और कर्मियों के लिए पटा हुआ है। यहां दक्षिण मुंबई के कोलाबा में नौसेना नगर में नौसेना के लिए आवासीय क्वार्टर भी हैं।

लाल किला पर हमले का संदिग्ध LeT आतंकी बिलाल 10 दिन की रिमांड पर

सेना के जहाजों के लिए बर्थ पोर्ट ट्रस्ट एसेट के करीब है जिसे कारोबारी जहाजों के लिए इस्तेमाल किया जाता है। साथ ही देश के सबसे पुराने पोर्ट्स में शामिल मुंबई पोर्ट पर बड़ी मात्रा में कार्गों की आवाजाही होती है।

गडकरी ने कहा, 'मैंने सुना कि आप (नेवी) हाई कोर्ट से मंजूरी मिलने के बावजूद, मालबार हिल पर फ्लोटिंग जेटी योजना के लिए स्थान देते हैं।'

उन्होंने कहा कि विकास कार्यों को रोकना एक आदत बन चुकी है। उन्होंने हैरानी जताई कि नेवी को मालबर हिल क्षेत्र जो कि मुख्त तौर पर निजी और स्थानीय जगह है वहां नेवी को क्या करना है? यहां महाराष्ट्र सरकार और मुख्यमंत्री का भी निवास है।

यह भी पढ़ें: इंदिरा गांधी बनेंगी विद्या बालन, किताब के अधिकार हासिल किए

कारोबार से जुड़ी ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

First Published: Thursday, January 11, 2018 05:54 PM

RELATED TAG: Nitin Gadkari, Mumbai, Navy Housing,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो