BREAKING NEWS
  • सोपोर में आतंकवादी और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़, एक आतंकवादी ढेर, इंटरनेट सेवा बंद- Read More »
  • Pulwama Attack- बरेली की महिला ने अपनी चूड़ियां बेच की पीएम राहत कोष में मदद, कही ये बड़ी बात - Read More »
  • रेप और भ्रष्टाचार के आरोप में पंजाब के पूर्व एसपी को 10 साल की कैद- Read More »

मुजफ्फरपुर कांड: सबूत जुटाने शेल्टर होम पहुंची सीबीआई, आज कोर्ट के समक्ष पेश करेगी चार्जशीट

News State Bureau  |   Updated On : December 07, 2018 05:10 PM
 सबूत जुटाने शेल्टर होम पहुंची सीबीआई

सबूत जुटाने शेल्टर होम पहुंची सीबीआई

नई दिल्ली:  

मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड मामले में सीबीआई की टीम आश्रय घर पहुंची. सीबीआई शेल्टर होम से सबूत इकट्ठे करने के लिए शेल्टर होम की जांच-पड़ताल कर रहे हैं. सीबीआई की टीम पानी की टंकियों को खाली कर सबूत जुटाने की कोशिश कर रही है. सीबीआई अदालत में आज चार्जशीट फाइल करेगी, जहां पांच आरोपी भी मौजूद होंगे. पुलिस की टीम भी मौके पर मौजूद है. शुक्रवार को मुजफ्फरपुर शेल्टर होम रेप केस के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर का तुरंत मेडिकल टेस्ट कराने का सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया.

सुप्रीम कोर्ट का आदेश ब्रजेश ठाकुर के उस आरोप के बाद सामने आया है जब उसने पंजाब के पटियाला जेल के सुपरिटेंडेंट पर पैसा मांगने का आरोप लगाया.

पिछले महीने पुलिस ने बिहार की पूर्व कल्याण मंत्री मंजू वर्मा के बेगूसराय स्थित घर के बाहर संपत्ति जब्त करने का नोटिस लगा दिया था. आर्म्स एक्ट मामले में फरार आरोपी मंजू वर्मा के पति चंद्रशेखर वर्मा कोर्ट में पहले ही आत्मसमर्पण कर चुके हैं. इससे पहले बिहार पुलिस ने मंजू वर्मा के ठिकानों पर छापेमारी की थी.मुजफ्फरपुर कांड में जांच के दौरान सीबीआई ने मंजू वर्मा के पति के गांव श्रीपुर में 17 अगस्त को छापेमारी की थी.

और पढ़ें: मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस : कोर्ट में पेश होने के बाद बोलीं पूर्व मंत्री मंजू वर्मा, बताओं मेरी गलती क्या है

इस दौरान सीबीआई ने चंद्रशेखर वर्मा के आवास से 50 अवैध गोली बरामद की. इसके बाद सीबीआई ने चेरियाबरियापुर थाने में पूर्व मंत्री और उनके पति के खिलाफ मामला दर्ज कराया था. इसके अलावा चंद्रशेखर वर्मा का मुजफ्फरपुर कांड के मुख्य आरोपी ब्रजेश पाठक से भी संबंध सामने आया, जिसके बाद बिहार की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा ने इस्तीफ़ा देना पड़ा था.

क्या है मामला?

बता दें कि मुंबई स्थित टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ़ सोशल साइंस की एक रिपोर्ट में इस मामले का खुलासा हुआ था. इंस्टिट्यूट ने सूबे की सरकार को सामाजिक अंकेक्षण रिपोर्ट सौंपी थी. रिपोर्ट में बच्चियों के साथ मुजफरपुर बालिका आश्रय गृह में लड़कियों के साथ यौन शोषण की घटना सामने आई थी. बच्चियों की चिकित्सकीय जांच के बाद 34 लड़कियों के साथ दुष्कर्म की पुष्टि हुई थी.

First Published: Friday, December 07, 2018 05:10 PM

RELATED TAG: Muzaffarpur Shelter Home Case, Cbi,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटरऔरगूगल प्लस पर फॉलो करें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो