'मोदी सरकार ने रुपये की गिरावट और सीएडी पर रोक के लिए बेमन से उठाया क़दम'

पूर्व वित्तमंत्री ने ट्विटर पर कहा, 'कल घोषित किए गए सरकार के पांच कदम बेमन से और बहुत देरी से उठाए गए हैं. क्योंकि सरकार इसे नकार रही थी.'

  |   Updated On : September 15, 2018 11:38 PM
पी चिदंबरम, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता

पी चिदंबरम, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता

नई दिल्ली:  

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता पी चिदंबरम ने शनिवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने रुपये की गिरावट थामने और चालू खाता घाटा (सीएडी) बढ़ने से रोकने के लिए जो पांच कदम उठाए हैं, बेमन से और बहुत देरी से उठाए हैं. पूर्व वित्तमंत्री ने ट्विटर पर कहा, 'कल घोषित किए गए सरकार के पांच कदम बेमन से और बहुत देरी से उठाए गए हैं. क्योंकि सरकार इसे नकार रही थी.'

उन्होंने कहा, 'इसका सबूत कई महीनों से सीएडी की खस्ता हालत होना है, और अभी तक सरकार ने कुछ नहीं किया है. सीएडी का घाटा बढ़ रहा है, एफपीआई देश से बाहर जा रहा है, रुपया कमजोर हो रहा है और विदेशी मुद्रा भंडार तेजी से घट रहा है. ये जगाने वाले संकेत थे, जिनकी अनदेखी की गई.'

रुपये को और अधिक गिरने तथा सीएडी को बढ़ने से रोकने के लिए सरकार ने शुक्रवार को पांच कदम उठाने की घोषणा की, जिसमें गैर जरूरी आयात रोकने और निर्यात बढ़ाने की घोषणा की गई.

और पढ़ें- पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दाम और गिरते रुपये का जल्द समाधान निकालेगी सरकार: अमित शाह

वित्तमंत्री अरुण जेटली ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से विस्तृत चर्चा के बाद कहा कि सरकार राजकोषीय घाटे के लक्ष्य को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है तथा भारतीय अर्थव्यस्था पर बाहरी कारकों के प्रभाव की निगरानी की जा रही है.

First Published: Saturday, September 15, 2018 11:27 PM

RELATED TAG: P Chidambaram, Arun Jaitley, Depreciating Rupee,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो