2023 भारत में पांच गुना बढ़ जाएगा डेटा ट्रैफिक, रिपोर्ट में दावा

साल 2023 तक स्मार्टफोन ग्राहकों की संख्या में तेज बढ़ोतरी और एलटीई/4जी के सबसे प्रभावशाली प्रौद्योगिकी बनने से देश में मोबाइल डेटा ट्रैफिक में अगले पांच सालों में पांच गुना बढ़ोतरी होगी।

  |   Updated On : June 12, 2018 04:54 PM
प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली:  

साल 2023 तक स्मार्टफोन ग्राहकों की संख्या में तेज बढ़ोतरी और एलटीई/4जी के सबसे प्रभावशाली प्रौद्योगिकी बनने से देश में मोबाइल डेटा ट्रैफिक में अगले पांच सालों में पांच गुना बढ़ोतरी होगी।

एरिक्सन की रिपोर्ट से मंगलवार को यह जानकारी मिली। इस दौरान मोबाइल डेटा ट्रैफिक में वृद्धि को 5जी के वाणिज्यिक रूप से चालू हो जाने से भी बढ़ावा मिलेगा, हालांकि एरिक्सन का अनुमान है कि भारत में 5जी ग्राहकों को 2022 से उपलब्ध होगी।

मोबाइल उद्योग के नवीनतम प्रचलन का अनुमान और विश्लेषण करनेवाली एरिक्सन मोबिलिटी रपट के 14वें संस्करण में कहा गया है कि अनुमान है कि उत्तरी अमेरिका 5जी अपनाने में सबसे आगे रहेगा, क्योंकि अमेरिका के सभी प्रदाता 2018 के अंत से 2019 के मध्य तक 5जी नेटवर्क को तैनात करने की योजना बना रहे हैं।

और पढें: किम पूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण पर सहमत, ट्रंप बोले- आज हमने लिखा नया इतिहास

इस रपट में अनुमान लगाया गया है कि भारत में प्रति स्मार्टफोन मासिक डेटा उपयोग 2017 में 5.7 जीबी से बढ़कर 2023 में 13.7 जीबी हो जाएगा।

एरिक्सन मोबिलिटी रपट के कार्यकारी संपादक प्रतीक सेरवाल ने बताया, 'दुनिया में स्मार्टफोन और एलटीई/4जी प्रौद्योगिकी तेजी से बढ़ती जा रही है, जैसा कि 2017 के अंत में देखा गया। यह बहुत तेजी से बढ़ रहा है और यह बदलाव भारत में भी देखने को मिलेगा।'

और पढ़ें: अटल बिहारी वाजपेयी की हालत स्थिर, इंफेक्शन कंट्रोल तक AIIMS में रहेंगे भर्ती

First Published: Tuesday, June 12, 2018 04:42 PM

RELATED TAG: Mobile Data Traffic, Data Traffice Report,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो