BREAKING NEWS
  • राजस्थान बीजेपी अध्यक्ष और राज्यसभा सांसद मदन लाल सैनी का निधन- Read More »
  • टीएमसी मंगलवार को राज्यसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण का जवाब देगी- Read More »
  • बाबा राम-रहीम को पैरोल पर रिहा करने के लिए हरियाणा पुलिस ने की सिफारिश, जानिए क्यों- Read More »

ममता बनर्जी के लिए बढ़ी परेशानी, डॉक्टरों के साथ खड़ा हुआ उन्हीं का भतीजा

News State Bureau  |   Updated On : June 14, 2019 01:42 PM
देश भर में जारी विरोध प्रद्रर्शन (Photo- ANI)

देश भर में जारी विरोध प्रद्रर्शन (Photo- ANI)

ख़ास बातें

  •  ममता बनर्जी के खिलाफ खड़ा हुआ खुद उन्ही का भतीजा
  •  डॉक्टरों के साथ किया प्रदर्शन
  •  कोलकाता के मेयर की डॉक्टर बेटी ने भी की नाराजगी जाहिर

नई दिल्ली:  

पश्चिम बंगाल में जूनियर डॉक्टर से मारपीट के बाद शुरू हुए प्रदर्शन ने देशभर में हंगामा मचा रखा है. अब इसी प्रदर्शन से बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के लिए परेशानी बढ़ती हुई नजर आ रही है. दरअसल अब इस प्रदर्शन में खुद उनका भतीजे अपेश बनर्जी शामिल हो गया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अबेश बनर्जी उन जूनियर ड़ॉक्टरों में शामिल थे जिन्होंने KPC मेडिकल कॉलेज से NRS मेडिकल कॉलेज तक विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व किया. दरअसल जूनियर डॉक्टरों का विरोध प्रदर्शन मामले में ममता बनर्जी के रवैये को लेकर था जिसमें बाद में सीनियर डॉक्टर भी शामिल हो गए. वहीं अपेश मुखर्जी KPC मेडिकल कॉलेज में पढ़ाई कर रहे हैं, ऐसे में वे भी प्रदर्शन में शामिल हुए.

वहीं दूसरी तरफ कोलकाता के मेयर और पश्चिम बंगाल के मंत्री फिरहाद हकीम की बेटी ने भी इस पूरे मामसे में ममता बनर्जी के रवैये को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर की है. फिरहाद हकीम की बेटी शब्बा हकीम भी एक डॉक्टर हैं. उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट में कहा, ' डॉक्टरों को शांतिपूर्ण प्रदर्शन और काम के वक्त सुरक्षित रहने का अधिकार है'. इसी के साथ उन्होंने लोगों से ये भी पूछने के लिए कहा, कि हॉस्पिटल को गुंडों ने क्यों घेरा हुआ है और डॉक्टरों को क्यों मारा जा रहा है. ' शब्बा हकीम ने कहा, कि एक टीएमसी समर्थक होने के नाते इस पूरे मामले पर ममता के रवैये को लेकर शर्म महसूस कर रही हूं.

बता दें, पश्चिम बंगाल में जारी हड़ताल की आंच अब दिल्ली समेत कई अन्य राज्यों तक पहुंच गई है. दिल्ली में कई अस्पतालों के डॉक्टरों ने बंगाल के डॉक्टरों का समर्थन करते हुए शुक्रवार को हड़ताल पर जाने का फैसला किया है .दिल्ली, बिहार, यूपी, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र समेत देश के कई हिस्सों में डॉक्टरों ने काम करने से मना कर दिया है. कई शहरों में डॉक्टर सड़क पर उतर कर अपना विरोध जताते हुए नारेबाजी कर रहे हैं. हालांकि राजस्थान के डॉक्टर दो घंटे ओपीडी बंद रखने के बजाय काली पट्टी बांध कर अपना विरोध जताएंगे. इस बीच एक बड़ी खबर ये भी आई है कि ममता बनर्जी के रवैये से नाराज होकर कोलकाता के आरजी कार मेडिकल कॉलेज के 80 डॉक्टरों ने सामूहिक इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने सीएम ममता बनर्जी से बगैर शर्त माफी मांगने की शर्त रखी है. 

क्या है पूरा मामला?

बता दें कि कोलकाता के सरकारी एनआरएस मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में सोमवार की रात एक मृत मरीज के परिवार के सदस्यों ने दो जूनियर चिकित्सकों पर क्रूर हमला किया, जिसके खिलाफ चिकित्सक प्रदर्शन कर रहे हैं. इस मुद्दे को लेकर राज्यभर के चिकित्सकों ने बुधवार से बाह्य रोगी विभागों (ओपीडी) में कार्य बंद कर दिया है.

First Published: Friday, June 14, 2019 01:36 PM

RELATED TAG: Doctors Strikes, Aiims, Doctors, Protest, Aiims Resident Doctors, West Bengal Doctors, Attack On Doctors, West Bengal, Mamata Banerjee Nephew,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटरऔरगूगल प्लस पर फॉलो करें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो