केरल बाढ़ में अबतक 27 लोगों की मौत, राजनाथ ने सीएम पिनरई विजयन को दिया मदद का आश्वासन

केरल में भारी बारिश और भूस्खलन के कारण लोगों का जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। राज्य में मूसलाधार बारिश के कारण चेरुथोनी शहर में रहने वाले कई लोगों को शुक्रवार को उनके घरों से निकाला गया।

  |   Updated On : August 10, 2018 05:45 PM
राजनाथ सिंह (फाइल फोटो)

राजनाथ सिंह (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

केरल में भारी बारिश और भूस्खलन के कारण लोगों का जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। राज्य में मूसलाधार बारिश के कारण चेरुथोनी शहर में रहने वाले कई लोगों को शुक्रवार को उनके घरों से बचाकर निकाला गया। राज्य में हालात इतने बदतर हो चुके हैं की बीते 48 घंटों में अबतक 27 लोगों की मौत हो चुकी है। केरल के कई जिलों में बुधवार से भारी बारिश जारी है जिस वजह से कई इलाके पानी में डूब गए हैं जबकि बांधों में जल स्तर लगातार बढ़ता जा रहा है।

बाढ़ से बुरी तरह बेहाल इंदुकी जिले के कलेक्टर जीवन कुमार ने मीडिया को बताया कि उन्होंने लोगों को मुन्नार और आस पास के जिलों में सुरक्षित स्थान पर भेज दिया है जहां पर जलस्तर कम है।

उन्होंने कहा, 'हमारी रेस्क्यू टीम बाढ़ से निपटने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है। हम मुन्नार में स्थिति राहत शिविरों में लोगों को शिफ्ट करने में मदद कर रहे हैं क्योंकि भारी बारिश की वजह से चेरूथोनी में पानी का स्तर बढ़ गया है। और अगले कुछ दिनों में राज्य में और ज्यादा भारी बारिश होने की संभावना है।'

और पढ़ें: केरल में बारिश से भारी तबाही, 22 लोगों की गई जान, नेवी की टीम लोगों को बचाने उतरी

इतना ही नहीं, केरल राज्य विद्युत बोर्ड (केएसईबी) ने इडुक्की और चेरुथोनी बांध के पांच द्वार खोल दिए हैं। बारिश के कारण राज्य में बड़ी संख्या में लोगों की जान गई है संपत्तियों का भी भारी नुकसान हुआ है। इदामालयर बांध से शुक्रवार सुबह करीब 600 क्यूसेक पानी छोड़ा गया जिससे जल स्तर 169.95 मीटर पर पहुंच गया। इडुक्की बांध में गुरुवार सुबह आठ बजे तक जल स्तर 2,398 फीट था।

गृह मंत्री राजनाथ ने सीएम विजयन से की बात

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन से टेलीफोन पर बात की और बाढ़ से हुए नुकसान की जानकारी ली। राजनाथ ने उन्हें केंद्र की तरफ से हरसंभव सहायता दिए जाने का आश्वासन भी दिया।

राजनाथ ने ट्वीट किया, 'केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन से बात की और राज्य में बाढ़ की स्थिति की जानकारी ली। मैंने राज्य सरकार को केंद्र से सभी संभावित सहायता मुहैया कराने का आश्वासन दिया है।'

राजनाथ ने कहा कि राहत और बचाव अभियान चल रहा है और गृह मंत्रालय स्थिति पर बराबर नजर रखे हुए है। केरल में बड़े इलाके बाढ़ के पानी से भरे हैं।

वहीं, इससे पहले राजनाथ ने लोकसभा में शून्य काल के दौरान कहा कि केंद्र सरकार केरल की स्थिति के प्रति जागरूक है और वह राज्य को सहायता पहुंचाने के लिए तैयार है।

उन्होंने कहा कि केंद्रीय गृहराज्य मंत्री किरेन रिजिजू ने कुछ दिनों पहले बाढ़ प्रभावित जिलों का दौरा किया था।

और पढ़ेंः केरल में बारिश ने मचाई तबाही, 24 की मौत, स्कूल कॉलेज बंद, NDRF की टीम तैनात

80 करोड़ रुपये की मिलेगी तत्काल मदद

केंद्र ने बाढ़ प्रभावित राज्य के लिए राहत राशि के तौर पर 80 करोड़ रुपये मंजूर किए थे।

अब तक बीते 48 घंटों में केरल में आई बाढ़ के कारण 27 लोगों की मौत हो चुकी है। सेना इडुक्की, वायनाड, कोझिकोड और मलप्पुरम जिलों में राहत एवं बचाव कार्यो में जुटी हुई है।

First Published: Friday, August 10, 2018 05:22 PM

RELATED TAG: Kerala Rains, Death Tolls Increase In Floods, Kerala, Rajnath Singh, Cm Pinarai Vijayan,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो