सिख दंगा: नई SIT के अध्यक्ष नियुक्त किए गए रिटायर्ड जस्टिस शिव नारायण ढींगरा

1984 के सिख विरोधी दंगों में बंद किए गए 186 मामलों की फिर से जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट ने नए विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन कर दिया है।

  |   Updated On : January 11, 2018 07:42 PM
सुप्रीम कोर्ट (फाइल)

सुप्रीम कोर्ट (फाइल)

नई दिल्ली:  

1984 के सिख विरोधी दंगों में बंद किए गए 186 मामलों की फिर से जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट ने नए विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन कर दिया है।

सुप्रीम कोर्ट ने हाई कोर्ट के रिटायर्ड जज शिव नारायण ढींगरा को नई एसआईटी का अध्यक्ष बनाया है। ढींगरा के अलावा इस जांच दल में एक रिटायर्ज आईपीएस राजदीप सिंह और आईपीएस अभिषेक दुलार शामिल होंगे। इस एसआईटी को दो महीने के भीतर अपनी रिपोर्ट सौंपनी है।

गौरतलब है कि बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने सिख-विरोधी दंगे के 186 बंद मामलों की जांच के लिए हाई कोर्ट के सेवानिवृत्त न्यायाधीश की अध्यक्षता में नए विशेष जांच दल (एसआईटी) का आदेश दिया था।

और पढ़ें: सिख विरोधी दंगा मामले में SC ने दिया बंद मामलों की नए सिरे से SIT जांच कराने का आदेश

इन मामलों की जांच इससे पहले गठित एसआईटी ने बंद कर दी थी। चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा, जस्टिस ए एम खानविलकर और जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़ ने नई एसआईटी के गठन का आदेश दिया जिसमें भारतीय पुलिस सेवा के मौजूदा अधिकारी और एक सेवानिवृत्त अधिकारी को भी शामिल किया जाएगा।

न्यायालय ने यह आदेश पर्यवेक्षक समिति की उस रिपोर्ट के बाद दिया जिसमें बताया गया है कि पहले की एसआईटी ने 241 मामलों में से 186 मामलों को बिना जांच के ही बंद कर दिया था।

और पढ़ें: 1984 सिख विरोधी दंगा मामले में सुप्रीम कोर्ट विशेष जांच दल के सदस्यों की करेगा घोषणा

First Published: Thursday, January 11, 2018 04:33 PM

RELATED TAG: Justice Shiv Narayan Dhingra, Justice Dhingra, Head, Committee, Re Investigate, 186 Cases Related 1984 Anti Sikh Riots, 1984 Anti Sikh Riots,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो