नौसेना चीफ ने कहा, ग्वादर में चीनी युद्धपोतों का दिखना चिंता का विषय

भारतीय नौसेना प्रमुख ने कहा कि अगर चीनी सेना का युद्धपोत बलूचिस्तान से सटे बंदरगाह पर देखे जाते हैं तो यह भारत के लिए चिंता का विषय होगा।

  |   Updated On : December 01, 2017 09:10 PM
भारतीय नौसेना प्रमुख सुनील लांबा (फाइल फोटो)

भारतीय नौसेना प्रमुख सुनील लांबा (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

भारतीय नौसेना प्रमुख सुनील लांबा ने पाकिस्तान के बलूचिस्तान से सटे बंदरगाह पर चीनी सेना के युद्धपोतों की उपस्थिति को लेकर चिंता जाहिर की है। 

भारतीय नौसेना प्रमुख ने कहा कि पाकिस्तान के बलूचिस्तान से सटे बंदरगाह पर चीनी सेना के युद्धपोतों का देखा जाना भारत की सुरक्षा के लिए ठीक नहीं है।

उन्होंने कहा कि भारत के दृष्टिकोण से ये चिंता का विषय है।

मीडिया से बताचीत के दौरान लांबा ने कहा, 'आने वाले समय में अगर चीनी सेना का युद्धपोत ग्वादर में नजर आता है तो यह भारत के लिए चिंता का विषय होगा और हमे इस बारे में आगे विचार करना पड़ेगा।'

सुनील लांबा ने कहा कि चीन की कई कंपनियों ने ग्वादर में अपना निवेश किया है। उन्होंने कहा कि ग्वादर एक व्यावसायिक बंदरगाह है जो कि चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर का हिस्सा है।

लांबा ने यह भी बताया कि चीनी सेना के आठ युद्धपोत इस समय हिंद महासागर में तैनात है।

लांबा ने कहा, 'चीनी नौसेना ने 2013 में इन पनडुब्बियों की तैनाती शुरू कर दी थी। इस जल क्षेत्र में दो पनडुब्बियां तैनात रहते हैं जो जो हर तीन म‍हीने में बदल जाती है।'

बता दें कि चीन ने इन युद्धपोतों को साल 2008 से ही तैनात करना शुरू कर दिया था।

सभी राज्यों की खबरों को यहां पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

First Published: Friday, December 01, 2017 04:33 PM

RELATED TAG: China, Pla, Pakistan, Balochistan, Gwadar, Indian Navy, Sunil Lanba, Cpec,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो