BREAKING NEWS
  • पुलवामा हमला: शहीदों की चिता नहीं पड़ी ठंडी लेकिन राजनीति शुरू, ममता ने मांगा पीएम मोदी का इस्तीफा, पढ़ें पूरी खबर- Read More »
  • LIVE: लोकसभा चुनाव के लिए बनी सहमति, बीजेपी 25 और शिवसेना 23 सीटों पर लड़ेगी चुनाव- Read More »
  • RBI ने सरकार को 28,000 करोड़ रुपये की सरप्लस राशि देने का फैसला किया- Read More »

नहीं हुआ चांद का दीदार, भारत में शनिवार को मनाई जाएगी ईद

News State Bureau   |   Updated On : June 15, 2018 12:26 AM
शनिवार को मनाई जाएगी ईद (फोटो-IANS)

शनिवार को मनाई जाएगी ईद (फोटो-IANS)

नई दिल्ली:  

ईद का चांद देखने के लिए रोजेदारों को अभी और इंतजार करना पड़ेगा। दिल्ली के जामा मस्जिद के शाही अहमद बुखारी ने ऐलान किया है कि भारत में ईद का त्यौहार 16 जून यानी की शनिवार को मनाई जाएगी। क्योंकि गुरुवार को देश के किसी भी हिस्से में चांद का दीदार नहीं हो सका।

ईद-उल-फ़ितर हिजरी कैलंडर (हिजरी संवत) के दसवें महीने शव्वाल यानी शव्वाल की पहली तारीख को मनाई जाती है।

बता दें कि ईद का त्यौहार हर देश में अलग-अलग तारीख को मनाई जाती है।

रमजान के महीने में मुस्लिम समाज के लोग 29 से 30 दिनों तक रोजा रखते हैं और इस साल रमजान का पहला रोजा 17 मई से शुरू हुआ था।

और पढ़ें: इफ्तार पार्टी में राहुल गांधी - प्रणव मुखर्जी की निटकता को ओवैसी ने बताया कांग्रेस का पाखंड

इस्लाम धर्म में रमजान को सबसे पवित्र महीना माना जाता है। रमजान को अरबी भाषा में 'रमादान' कहते हैं। रमजान के महीने में मुस्लिम समुदाय के लोग रोजा रखते हैं।

रमजान के महीने में सूरज छिपने तक बिना कुछ खाये-पिए रोजा रखा जाता है। जो रोजे रखते हैं, वह सवेरे जल्दी उठ कर सुबह से पहले ही खा लेते हैं, जिसे सहरी कहा जाता है। शाम को इफ्तार के साथ रोजा खोला जाता है।

रमजान के पूरे महीने विशेष नमाज अदा की जाती है। पहली बार कुरान के उतरने की याद में मुसलमान पूरे महीने रोजे रखते हैं।

और पढ़ें: ईद के बाद जम्मू-कश्मीर से हटाया जा सकता है सीजफायर, आतंकियों की फिर आएगी शामत : सूत्र

पूरी दुनिया में मुस्लिम समाज इसे पैगम्बर हजरत मोहम्मद पर पवित्र कुरान के अवतरण के उपलक्ष्य में उपवास और पूरी श्रद्धा से साथ मनाता है।

इस माह को कुरान शरीफ के नाजिल का महीना भी माना जाता है।

ऐसी मान्यता है कि पाक रमजान माह में फर्ज नमाजों का शबाब 70 गुणा बढ़ जाता है।

रमजान का महीना सबाब का महीना होता है। इस्लाम के पांच अन्य स्तंभों में धर्म पर सच्ची श्रद्धा रखना, नमाज पढ़ना, दान देना और हज करना शामिल है।

रमजान के महीने में गरीबों और जरूरतमंदों को दान दिया जाता हैं। इस महीने में अल्लाह से अपने सभी बुरे कर्मों के लिए माफी मांगी जाती है और तौबा के साथ इबादतें की जाती हैं।

और पढ़ें: VIDEO: बॉलीवुड के इन हिट गानों के साथ कहें 'ईद मुबारक'

First Published: Thursday, June 14, 2018 11:59 PM

RELATED TAG: Eid, Jama Masjid, Shahi Imam Ahmed Bukhari, Ramzan, Eid Ul Fitr,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटरऔरगूगल प्लस पर फॉलो करें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो