Hyderabad Twin Blasts case 2007 : ओवैसी ने कहा, न्याय अभी नहीं हुआ है

2007 में हुए हैदराबाद बम धमाकों के मामले में यहां की एक अदालत ने अपना फैसला सुना दिया है। कोर्ट ने दो आरोपियों को जहां बरी कर दिया है वहीं दो आरोपी दोषी ठहराए गए हैं।

  |   Updated On : September 04, 2018 04:47 PM
हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी

हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी

नई दिल्ली:  

2007 में हुए हैदराबाद बम धमाकों के मामले में यहां की एक अदालत ने अपना फैसला सुना दिया है। कोर्ट ने दो आरोपियों को जहां बरी कर दिया है वहीं दो आरोपी दोषी ठहराए गए हैं। इस फैसले को लेकर एआईएमआईएम प्रमुख और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी का बयान सामने आया है।

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, यह हैदराबाद के लिए बहुत दुखद घटना थी। बरी किए गए आरोपियों के वकील सतार से बात किया हूं उनका मानना है कि सभी सबूत परिस्थितिवादी थे। विस्फोट के 1.5 साल बाद गवाह पाए गए। मुझे लगता है कि न्याय अभी तक नहीं किया गया है।'

बता दें कि आज यानी मंगलवार को हैदराबाद बम धमाकों में अदालत ने अपना फैसला सुनाते हुए दो आरोपियों को बरी कर दिया है और दो आरोपी दोषी करार दिए गए हैं। फिलहाल इनकी सजा पर फैसला आना बाकी है। दोषियों के नाम अनीक शफीक सईद और इस्माइल चौधरी हैं।

और पढ़ें : हैदराबाद में दोहरे बम धमाके में अनीक शफीक सईद और इस्माइल चौधरी दोषी करार, दो को किया बरी

11 साल पहले हैदराबाद में गोकुल चाट और लुम्बिनी पार्क में हुए दोहरे बम धमाकों में 42 लोगों की मौत हो गयी थी और 50 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। पहला बम धमाका लुम्बिनी पार्क में हुआ था और इसकी खबर लोगों तक पहुंचती उसके पहले ही करीब 7:30 बजे दूसरा धमाका गोकुल चाट के पास हुआ।

और पढ़ें : यूपी के शामली में आज सुबह ही इंटर कॉलेज के गेट पर 11वीं के छात्र की गोली मारकर हत्या

First Published: Tuesday, September 04, 2018 04:43 PM

RELATED TAG: Hyderabad Blast Case, Asaduddin Owaisi, Hyderabad Twin Blasts Case,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो