गुजरात: ऊना में दलितों ने हिन्दू धर्म का त्याग कर अपनाया बौद्ध धर्म, कहा- हमें कोई हिन्दू नहीं मानता

गुजरात के ऊना में आज कई दलितों ने अपना धर्म परिवर्तित कर लिया है। बौद्ध पूर्णिमा के मौके पर दलितों ने हिन्दू धर्म का त्याग कर के बौद्ध धर्म की दीक्षा ले ली है।

News State Bureau   |   Updated On : April 29, 2018 08:30 PM
ऊना में दलितों ने अपनाया बौद्ध धर्म

ऊना में दलितों ने अपनाया बौद्ध धर्म

नई दिल्ली:  

गुजरात के उना में दलित समुदाय के कुछ परिवारों ने रविवार को बौद्ध धर्म स्वीकार कर लिया। धर्म परिवर्तन के बाद दलित परिवारों ने कहा कि हिंदू धर्म में हमें सम्मान नहीं मिला और हिंदुओं ने हमें नहीं अपनाया इसलिए हमने बौद्ध धर्म अपनाया है।

रविवार को उना में बड़ी संख्या में दलित परिवार ने पूरे रीति रिवाज से 'बुद्धम् शरम् गच्छामी' के उद्घोष पर बौद्ध धर्म अपना लिया।

इन परिवारों ने बौद्ध धर्म अपनाने का फैसला क्यों लिया, इस सवाल पर उनका कहना था कि उन्हें हिंदू नहीं माना जाता और न ही मंदिरों में प्रवेश की अनुमति है इसलिए हमने अपना धर्म परिवर्तन कर के बौद्ध धर्म अपनाया है।

बता दे कि साल 2016 में गुजरात के गिर सोमनाथ जिले के उना में कथित गौरक्षकों ने 7 दलित युवकों कथित रूप से खाल उतारने के मामले में पिटाई की थी। जिसका वीडियो खूब वायरल हुआ था। जिसमें गौरक्षक दलित युवकों की बेरहमी से पिटाई करते दिख रहे हैं।

इस घटना को लेकर देश भर में प्रदर्शन हुए थे। साथ ही राजनीतिक जगत में भी इसकी खूब आलोचना हुई थी। 

और पढ़ें: मायावती का योगी की डिनर डिप्लोमेसी पर हमला, कहा- बस घर होता है दलित का, खाना अपना लाते हैं BJP नेता

First Published: Sunday, April 29, 2018 07:37 PM

RELATED TAG: Dalit, Gujarat, Buddh Purnima, Buddhism, Una,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो