पीएनबी फर्जीवाड़ा केस में दोषियों को बख़्शा नहीं जाएगा- रविशंकर प्रसाद

हमारे प्रधानमंत्री जी ने राष्ट्रपति के अभिभाषण के बाद कहा था कि हमारी सरकार बनने के बाद किसी बी डिफॉल्टर को लोन नहीं दिया गया।

  |   Updated On : February 15, 2018 06:38 PM

नई दिल्ली:  

देश में सार्वजनिक क्षेत्र के दूसरे सबसे बड़े बैंक, पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में घपला उजागर होने के बाद से राजनीतिक बयानबाजी काफी तेज़ हो गई।

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने देश में अब तक का सबसे बड़ा 11300 करोड़ के बैंकिंग घोटाले पर सराकार का पक्ष रखते हुए कहा कि सरकार का रुख बहुत स्पष्ट है, जो कोई भी इसमें संलिप्त पाया जाएगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी, चाहे उसका कद कितना भी बड़ा क्यों ना हो।

वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के आरोप का जवाब देते हुए रविशंकर प्रसाद ने कहा, 'कांग्रेस फोटो की राजनीति ना करे, शहजाद पूनावाला ने ट्वीट कर बताया है कि 2013 में नीरव मोदी के शो में राहुल गांधी भी गए थे। और वैसे भी दावोस में प्रधानमंत्री मोदी के डेलिगेशन का हिस्सा नहीं थे। उनकी ना तो प्रधानमंत्री से कोई मुलाकात हुई ना कोई बात हुई।'

कांग्रेस द्वारा 'छोटा मोदी' कहे जाने पर प्रसाद ने कहा, "यह 'छोटा मोदी' कौन सा शब्द है? बीजेपी को इस तरह के शब्द से कड़ी आपत्ति है। इस तरह का व्यवहार अपमानजनक, निंदनीय और प्रतिष्ठा को चोट पहुंचाने वाला है।"

इससे पहले राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा था कि 'नीरव मोदी दावोस में पीएम मोदी के साथ दिखे थे इसलिए अपने प्रभाव का उपयोग कर 12,000 करोड़ रुपए चुराकर माल्या की तरह देश छोड़कर भाग गए।'

रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस पर अपना हमला जारी रखते हुए कहा, '2011-2013 में मेहुल चौकसी की संपत्ति दोगुनी हो गई थी, ये किसके आशीर्वाद से हुआ था। कांग्रेस यह भी साफ करे। जिनके शीशे के घर टुकड़े टुकड़े हो चुके हैं वो पत्थर उछालना बंद करें। हमारी सरकार किसी दबाव में नहीं झुकेगी।'

और पढ़ें- PNB घोटाला: 11300 करोड़ रुपये का धांधली कर विदेश भागा नीरव मोदी और उसका परिवार

प्रेस कॉफ्रेंस को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा, 'हमारे प्रधानमंत्री जी ने राष्ट्रपति के अभिभाषण के बाद कहा था कि हमारी सरकार बनने के बाद किसी भी डिफॉल्टर को लोन नहीं दिया गया।'

उन्होंने आगे कहा, 'बैंक के सिस्टम में किसी का कद या पद कुछ भी हो, जो भी संलिप्त पाया जाएगा। उसे बख्शा नहीं जाएगा।'

आगे उन्होंने कांग्रेस के आरोप को लेकर कहा कि विजय माल्या के बार में हमसे सवाल पूछा जा रहा है। यह वही हैं जो त्तकालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को धन्यवाद दे रहे थे। आज वहीं कांग्रेस बीजेपी पर आरोप लगा रही है।

उन्होंने कहा, 'विजय माल्या मामले में सीबीआई अपना काम कर रही है। हमने बैंकिग सिस्टम को पूरी स्वायत्ता दी है। आरोपियों को बचाने वाले छोड़े नहीं जाएगे। आज जो घटना हुई है इसकी चर्चा 2011 में हुई थी। कुछ लोगों ने सिस्टम को बायपास किया है। बैंक के कुछ अधिकारियों का नाम आया है लेकिन अगर किसी ने ऊपर से मदद की है तो उसे छोड़ा नहीं जाएगा।'

और पढ़ें: PNB घोटाला- बैंक के MD ने कहा- फ्रॉड करने वालों पर होगी कड़ी कार्रवाई

उन्होंने कहा कि हम पूरे विश्वास से कहते हैं कि मोदी जी की सरकार में साढ़े तीन साल में बैंक ने एक भी ऐसा लोन नहीं दिया है, जो एनपीए हुआ हो।

इससे पहले कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सूरजेवाला ने भी ट्वीटर के ज़रिए केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए 4 सावल पूछे थे।

सूरजेवाला ने पूछा- 1- कौन है नीरव मोदी? नया मोदी स्कैम?

2- क्या उसे भी ललित मोदी और विजय माल्या की तरह कोई सरकार के अंदर से खबर दे रहा था?

3- क्या अब लोगों का पैसा लेकर भागना एक सामान्य बात हो गई है?

4-कौन है जिम्मेदार?

और पढ़ें- PNB घोटालाः राहुल गांधी और केजरीवाल ने पीएम मोदी को घेरा, सरकार ने साधी चुप्पी

First Published: Thursday, February 15, 2018 05:20 PM

RELATED TAG: Pnb Fraud, Nirav Modi, Ravi Shankar Prasad, Rahul Gandhi, Randeep Surjewala,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो